Hindi News »Gujarat »Surat» Plot To Demolish The Train Failed In Udhna Gujarat

गुजरात: ट्रेन गिराने की साजिश नाकाम, ट्रैक पर रखे रेल पीस से टकराया इंजन

इंजन क्षतिग्रस्त, लोको पायलट ने तत्काल ब्रेक लगाकर ट्रेन रोकी

Bhaskar News | Last Modified - Mar 19, 2018, 06:46 AM IST

गुजरात: ट्रेन गिराने की साजिश नाकाम, ट्रैक पर रखे रेल पीस से टकराया इंजन

सूरत. सूरत-मुंबई रेल सेक्शन पर ट्रेन को एक बार फिर गिराने की साजिश रची गई। इस बार निशाने पर गोल्डन टेम्पल मेल थी। सूरत से निकलने के बाद उधना स्टेशन से पहले ट्रेन ट्रैक पर रखे रेल पीस से जा टकराई। इससे इंजन क्षतिग्रस्त हो गया। हालांकि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ। लोको पायलट ने तत्काल इसकी सूचना कंट्रोल रूम को दी, जिसके बाद मौके पर अधिकारी पहुंचे। इससे पहले दिसंबर महीने में अहिंसा एक्सप्रेस को भी इसी तरह गिराने की साजिश हो चुकी है।


12904 गोल्डन टेम्पल मेल सूरत स्टेशन से शनिवार देर रात 12.55 बजे रवाना हुई। उधना स्टेशन से 500 मीटर पहले कोइली खाड़ी के नजदीक किमी क्रमांक 263/19 अप लाइन पर एक 3 मीटर रेल पीस ट्रैक के बीचो-बीच अज्ञात बदमाशों ने रख दिया। रात 1.08 बजे इससे इंजन टकरा गया। टक्कर इतनी तेज थी कि रेल पीस का टुकड़ा इंजन के एक्सेल में घुस गया था। लोको पायलट ने तत्काल ब्रेक लगाकर ट्रेन रोकी। उसने इसकी सूचना लोको इंस्पेक्टर को दी। फिर जीआरपी को घटना के बारे में बताया गया। मौके पर जीआरपी के पीआई वाईबी वाघेला टीम के साथ पहुंचे। आरपीएफ के अधिकारी भी जांच के लिए पहुंचे। पीआई वाघेला ने कहा कि रेल एक्ट के तहत अज्ञात साजिशकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

#दिसंबर से पत्थर मारने और ट्रैक से छेड़छाड़ के 10 से ज्यादा मामले, लेकिन अब तक गिरफ्तारी नहीं

28 दिसंबर को भी घटना
पिछले साल 28 दिसंबर को सुबह 4 बजे उत्राण से सूरत के बीच रेल ट्रैक पर लोहे के बेंच को पटरी के बीचो-बीच रख दिया था गया। इससे मुंबई से अहमदाबाद की तरफ जा रही अहिंसा एक्सप्रेस के इंजन का केटल गार्ड उससे जा टकराया। हालांकि ड्राइवर की सतर्कता से संभावित दुर्घटना होने से बच गई।

कौन कर रहा है साजिश
सूरत से भेस्तान और उत्राण का रेल सेक्शन ट्रेनों के परिचालन के लिहाज से खतरनाक होता जा रहा है। आरपीएफ और जीआरपी की नाकामी यह है कि पिछले महीने दिसंबर से अब तक पत्थर मारने से लेकर ट्रैक से छेड़छाड़ के 10 से ज्यादा मामले आ चुके है, लेकिन गिरफ्तारी किसी की नहीं हो सकी है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×