--Advertisement--

रन फॉर न्यू इंडिया नाइट मैराथन में पहुंचे मोदी, कुछ इस तरह सज गईं सड़कें

रूट पर पेंटिंग और डिजिटल बोर्ड और सेल्फी पॉइंट भी बनाए गए हैं।

Danik Bhaskar | Feb 25, 2018, 11:20 PM IST

सूरत. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार शाम को सूरत में रन फॉर न्यू इंडिया मैराथन को हरी झंडी दिखाने आए। लाल भाई कांट्रेक्टर स्टेडियम में सूरत को देश को नई राह दिखाने वाला बताते हुए दो नए विश्व रिकॉर्ड बनाने का आह्वान किया। मोदी ने कहा बहुत लोग सोचते हैं कि सूरत यानी उंधिया पार्टी, लोचो है, लेकिन यहां के लोग जो ठान लें वो करते हैं। इसलिए आपसे मांगने को मन करता है। 31 अक्टूबर को सरदार वल्लभ पटेल की जयंती पर रन फॉर यूनिटी और 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर सूरत तय करे तो देश-दुनिया के रिकॉर्ड टूटें।

भारत छोड़ो जैसा संकल्प लेकर आजादी के 75 साल पर देश को बुलंदियों पर पहुंचाएं

- पीएम मोदी ने कहा कि 1942 में भारत छोड़ो संकल्प के साथ गांधीजी के नेतृत्व में देश आगे बढ़ा और 5 साल में अंग्रेजों को यहां से जाना पड़ा।

- अब 5 साल बाद 2022 में आजादी के 75 साल पर देश के सवा सौ करोड़ लोग देश को बुलंदी पर पहुंचाने का संकल्प ले आजादी के दीवानों का सपना पूरा कर सकते हैं।

भ्रष्टाचार, जातिवाद से मुक्त हो नया भारत

- मोदी ने कहा कि नया भारत ऐसा हो जो जातिवाद, साम्प्रदायिकवाद और भ्रष्टाचार से मुक्त हो। बहन-बेटियों का सम्मान हो, गरीबी और गंदगी से मुक्ति हो, जहां हर किसी को अपने सपनों के अनुकूल काम करने की शक्ति मिले।

रात 2 बजे तक चली रेस

- रन फॉर न्यू इंडिया मैराथन की शुरुआत लालभाई कांट्रेक्टर स्टेडियम से रविवार शाम 7.30 बजे हुई।

- 22000 लाइट्स से जगमगाते मैराथन रूट पर डेढ़ लाख लोगों ने दौड़ लगाई। 42 किमी की फुल मैराथन देर रात 2 बजे तक चलती रही।

2022 की उम्मीदों के लिए नाइट मैराथन में दौड़े हजारों सूरती

- रन फॉर न्यू इंडिया नाइट मैराथन में 1.5 लाख लोगों ने दौड़ लगाई। 42 किमी की फुल, 21 किमी की हॉफ के अलावा 10 और 5 किमी की दौड़ रखी गई थी। दौड़ को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालभाई कांट्रेक्टर स्टेडियम से हरी झंडी दिखाई।

- मैराथन में देश-विदेश के धावकों के साथ व्यापारी, डॉक्टर, वकील, सीए, सीनियर सिटीजन, दिव्यांग और कई क्षेत्रों के लोगों ने भाग लिया। मैराथन रूट में पड़ने वाले सभी ट्रैफिक सर्किल को दुल्हन की तरह सजाया गया था।

- रविवार होने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति के कारण बड़ी संख्या में लोग मैराथन देखने आए। रूट पर पीने का पानी और कोल्ड ड्रिंक्स आदि की व्यवस्था की गई थी। इमरजेंसी के लिए मेडिकल स्टाफ तैनात था। रूट के साथ शहर की सुरक्षा चाक-चौबंद थी। नाइट मैराथन का आयोजन सूरत नागरिक समिति ने किया था।

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री विजय रुपाणी, उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल के साथ सांसद सीआर पाटील और दर्शना जरदोश भी उपस्थित थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को देखते हुए रास्तों से कचरा पेटियां हटा दी गई थीं। स्कूल और निजी ट्रैवेल्स की बसों से भर-भर के लोग मैराथन में भाग लेने के लिए आए थे।


लड़कियों से की छेड़खानी तो लोगों ने पीटा

- 5 किमी रनर्स गेट के पास एक युवक ने लड़कियों से छेड़खानी कर मोबाइल छीनने का प्रयास किया। लोगों ने उसे पकड़कर पीटा और सुरक्षा कर्मियों के हवाले कर दिया।

57 साल के भीमाभाई पटेल ने नंगे पैर 1.25 घंटे में रेस पूरी की

57 साल के भीमाभाई पटेल ने नंगे पैर 21 किमी की दौड़ 1.25 घंटे में पूरी की। वह सूरत पुलिस मुख्यालय में एसआई के पद पर कार्यरत हैं। इससे पहले वह पुलिस कमिश्नर के कमांडो थे।

पीएम को देखने 6 किमी तक जमा थे लोग

रन फॉर न्यू इंडिया को हरी झंडी दिखाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 6.30 बजे सूरत एयरपोर्ट पहुंच गए थे। 30 मिनट बाद वह एयरपोर्ट से लालभाई कांट्रेक्टर स्टेडियम के लिए रवाना हुए। करीब छह किलोमीटर के रोड शो के दौरान पीएम का स्वागत करने के लिए बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। पीएम मोदी ने सभी लोगों का अभिवादन किया। लोगों ने मोदी मोदी के नारे लगाए। उनके साथ सेल्फी लेने का भी प्रयास किया। रात 8.10 बजे मोदी दिल्ली जाने के लिए सूरत एयरपोर्ट के लिए निकल पड़े।

दिल्ली के बैंड ने बढ़ाया धावकों का उत्साह

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शाम 7.23 बजे रन फॉर न्यू इंडिया को दिखाई हरी झंडी।
- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजराती की बजाय हिंदी में भाषण दिया।
- एसवीएनआईटी से लालभाई कांट्रेक्टर स्टेडियम तक सभी पार्किंग फुल थीं।
- स्टेडियम से वीआर मॉल तक 15 हजार से अधिक लोग उपस्थित थे।
- स्कूलों की बसों से बड़ी संख्या में विद्यार्थी भी आए।
- दिल्ली के मूंगफली रॉक बैंड ने लाइव परफॉर्मेंस से धावकों का उत्साह बढ़ाया।
- मैराथन वर्ल्ड वाइड के प्रसिद्ध डॉ. केसी जैन ने पीएम का आभार जताया।
- कपड़ा व्यापारी महेंद्र जैन ने अपने माथे पर जीएसटी लिखकर विरोध जताया।
व्यापारी महावीर अग्रवाल की 29 वर्षीय बेटी निशा ने मोदी को पोट्रेट भेंट किया।

रूट पर पेंटिंग और डिजिटल बोर्ड और सेल्फी पॉइंट भी बनाए गए हैं। रूट पर पेंटिंग और डिजिटल बोर्ड और सेल्फी पॉइंट भी बनाए गए हैं।