--Advertisement--

लापता प्रवीण तोगड़िया पार्क में बेसुध हालत में मिले, इलाज के लिए हाॅस्पिटल में ले जाया गया

विश्व हिंदू परिषद् (VHP) के इंटरनेशनल प्रेसिडेंट प्रवीण तोगड़िया (62) अहमदाबाद के एक पार्क में बेसुध हालत में पाए गए।

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 11:55 PM IST
हॉस्पिटल में एडमिट प्रवीण तोग हॉस्पिटल में एडमिट प्रवीण तोग

अहमदाबाद. विश्व हिंदू परिषद् (VHP) के इंटरनेशनल प्रेसिडेंट प्रवीण तोगड़िया (62) सोमवार को रहस्यमय तरीके से लापता हो गए थे। उनकी गुमशुदगी को लेकर मची अफरातफरी और वीएचपी के विरोध प्रदर्शन के बीच करीब 12 घंटे बाद वे बेहोशी की हालत में मिले। किसी अनजान शख्स ने उन्हें सड़क पर बेहोशी की हालत में पड़े देखकर एम्बुलेंस बुलाकर अस्पताल पहुंचाया। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, तोगड़िया को शाहीबाग इलाके के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल के डॉक्टर रूपकुमार अग्रवाल ने बताया कि शुगर का लेवल कम होने (लो शुगर) के कारण बेहोश तोगड़िया को कोतरपुर इलाके से सरकारी एम्बुलेंस के जरिए लाया गया। अब उनकी हालत में सुधार है।

लापता होने से पहले गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस को नहीं मिले थे तोगड़िया

- तोगड़िया के खिलाफ राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले के गंगापुर सेशन्स कोर्ट में करीब 10 साल पुराना निषेधाज्ञा उल्लंघन (Injunction violation) का मामला दर्ज है। उनके खिलाफ इस मामले में गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। इसी को लेकर वहां की पुलिस सोमवार को करीब 10 बजे सोला इलाके के भागवत बंगलो के उनके रेजीडेंस पर पहुंची थी, लेकिन वो वहां नहीं थे। उसके बाद से ही वो रहस्यमय तरीके से लापता हो गए थे।

- हालांकि, पुलिस के अाला अफसरों के मुताबिक वीएचपी प्रेसिडेंट के लापता होने से उनके हॉस्पिटल पहुंचने तक काफी सवालों के जवाब अब तक नहीं मिले हैं। इस बारे में पुलिस ऑफिशियली आज कोई बयान जारी कर सकती है।

वीएचपी वर्कर्स के विरोध प्रदर्शन के बाद तोगड़िया को तलाशने बनाई थी स्पेशल टीम
- प्रवीण तोगड़िया के लापता होने के बाद वीएचपी ने विरोध में सोला पुलिस स्टेशन पर प्रदर्शन भी किया। अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, सुरेन्द्रनगर समेत कई जगहों पर चक्काजाम और प्रदर्शन भी किया गया।
- इस दौरान राजस्थान और गुजरात पुलिस के उनको गिरफ्तार करने की खबर भी उड़ी, लेकिन पुलिस ने इससे इनकार किया। इस बीच, अहमदाबाद पुलिस की क्राइम ब्रांच ने उन्हें खोजने के लिए एक स्पेशल टीम भी बना दी थी। किसी अनजान शख्स के फोन करने पर तोगड़िया के बेहोश होने की जानकारी मिली।

24 घंटे 36 जवानों की सिक्युरिटी में रहने वाले तोगड़िया आखिर कैसे गायब हुए?

- तोगड़िया को जेड प्लस कैटेगरी की सिक्युरिटी मिली हुई है। उनके साथ 24 घंटे 36 जवान तैनात रहते हैं। उनके रहते तोगड़िया के लापता हाेेने पर सवाल उठाया जा रहा है।

दाढ़ी वाले शख्स के साथ देखे गए थे तोगड़िया

- तोगड़िया सोमवार सुबह वीएचपी के पालडी दफ्तर से बाहर आए थे। वहां उनकी सिक्युरिटी में तैनात एसआरपी के जवान विक्रम सिंह से उन्होंने कहा था- मैं निजी काम से बाहर जा रहा हूं, आप यहीं रुकना। उनके साथ एक दाढ़ीवाला शख्स था।

क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तारी को बताया अफवाह
- तोगड़िया कहां गए हैं, यह जानकारी किसी को नहीं थी। दूसरी तरफ, उसी समय सोला पुलिस के साथ राजस्थान पुलिस की टीम गिरफ्तारी वारंट लेकर उनके घर पहुंची। इसलिए गिरफ्तारी की खबर फैल गई। क्राइम ब्रांच ने साफ किया कि तोगड़िया को गिरफ्तार नहीं किया गया है।