--Advertisement--

रेड मारने गई पुलिस पर तस्करों का जानलेवा हमला, टॉयलेट का टब तोड़कर निकाली शराब

घर की महिलाओं ने पुलिस इंस्पेक्टर के चेहरे पर फेवीक्विक भी फेंका।

Dainik Bhaskar

Jan 02, 2018, 07:42 AM IST
आरोपियों ने शौचालय के टब के नी आरोपियों ने शौचालय के टब के नी

सूरत. बेगमपुरा में छापेमारी करने गए महिधरपुरा पुलिस पर शराब तस्करों ने कांच से हमला कर दिया। महिधरपुरा थाने के पीआई के चेहरे पर फेवी क्विक भी फेंकी गई। इस मामले में पुलिस ने 71 साल की वृद्धा, दो महिला आैर एक पुरुष के खिलाफ हत्या की कोशिश, सरकारी अफसरों के काम में बाधा पहुंचाने का मामला दर्ज किया। पुलिस ने इन सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

महिलाओं ने पुलिस इंस्पेक्टर के चेहरे पर फेवीक्विक फेंका

- जानकारी के मुताबिक 31 दिसंबर काे किए जाने वाले सेलिब्रेशन को लेकर पुलिस की सूचना पर शहरभर में शराब को लेकर पुलिस विभाग ने कार्रवाई की। महिधरपुरा पुलिस को सूचना मिली थी कि बेगमपुरा स्थित राणा शेरी में मकान नंबर 4-558 में भारी मात्रा में शराब रखी गई है।

- महिधरपुरा पीआई डीके पटेल ने स्टाफ के साथ छापेमारी की। अशोक की पत्नी अनिता, कंचन चंपक लाल राणा आैर नयन चंपक लाल राणा ने पुलिस को मकान में प्रवेश करने से रोका। इतना ही नहीं घर की महिलाओं ने पुलिस इंस्पेक्टर डीके पटेल के चेहरे पर फेवीक्विक फेंका। कॉन्स्टेबल मुकेश तुलसी पर भी हमला किया गया। मुकेश को कांच से घायल कर दिया गया।

- मामला बिगड़ता देख पुलिस इंस्पेक्टर ने ज्यादा पुलिस फोर्स मौके पर बुलवाया। पुलिस ने सभी आरोपियों के विरुद्ध हत्या की कोशिश आैर सरकारी फर्ज में रुकावट का मामला दर्ज कर देररात गिरफ्तार किया। पकड़े गए आरोपियों में 71 साल की कंचन राणा भी शामिल है।

शौचालय में छिपाई थी शराब, प्रोहिबिशन का मामला दर्ज
पुलिस पर हमले के बाद ज्यादा पुलिस फोर्स को बुलाया गया। पुलिस ने घर में तलाशी ली तो शौचालय के नीचे शराब छुपाई गई थी। इस मामले में पुलिस ने 14 हजार रुपए मूल्य की 100 से ज्यादा शराब की बोतलें भी बरामद की। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ शराब रखने को लेकर अलग से प्रोहिबिशन का मामला दर्ज किया।

आरोपी पांच बार ‘पासा’ में गिरफ्तार हो चुका है

पुलिस इंस्पेक्टर डीके पटेल ने बताया कि आरोपी अशोक के खिलाफ इससे पहले प्रोहिबिशन के कई मामले दर्ज हो चुके है। पांच बार तो उसे पासा के तहत गिरफ्तार किया जा चुका है। 6 महीने पहले ही अशोक पासा की सजा काटकर जेल से मुक्त हुआ था। इससे पहले अशोक ने शौचालय में शराब छुपाई थी।

पुलिस पर लगाया तोड़फोड़ का आरोप

आरोपी अशोक ने बताया कि पुलिस ने उसके घर में तोड़फोड़ की थी। अशोक ने घर में बने शौचालय के टब के नीचे शराब छिपाकर रखी थी। इस लिए पुलिस ने शौचालय के टब को तोड़ा था।

X
आरोपियों ने शौचालय के टब के नीआरोपियों ने शौचालय के टब के नी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..