--Advertisement--

गुजरात बजट: सूरत को 3 ब्रिज के लिए मिले 180 करोड़, डायमंड बुर्श के लिए 30 करोड़

सूरत सहित अहमदाबाद, वडोदरा, राजकोट में सायबर पुलिस थाने बनेंगे। सूरत में अभी क्राइम ब्रांच में ही एक सायबर सेल है।

Danik Bhaskar | Feb 21, 2018, 08:24 AM IST
एक ब्रिज का शिलान्यास हो चुका, एक ब्रिज का शिलान्यास हो चुका,

सूरत. राज्य बजट ने सूरत शहर में अटके पड़े तीन प्रमुख ब्रिज का निर्माण जल्द पूरे होने की उम्मीद जगाई है। उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल ने मंगलवार को बजट पेश करते हुए इनके लिए 180 करोड़ रुपए देने की घोषणा की गई। बजट की कमी से मनपा इन ब्रिज का कार्य आगे नहीं बढ़ा पा रही थी। इसके अलावा डायमंड बुर्श के लिए 30 करोड़ और सिविल अस्पताल में कॉर्डियक विभाग जैसी बड़ी घोषणाएं की गई हैं। सहारा दरवाजा क्षेत्र में मल्टी लेयर ब्रिज के लिए 80 करोड़ का प्रावधान किया है। इस ब्रिज की डिजाइन का 50 फीसदी कार्य पूर्ण हो चुका है। डिजाइन की राज्य सरकार से मंजूरी मिलते ही ब्रिज का कार्य शुरू हो जाएगा। बजट की कमी से मनपा ने उधना से सिद्धार्थ नगर ब्रिज का निर्माण रोक रखा था। इसके लिए राज्य सरकार ने 50 करोड़ देने की घोषणा की है। वरियाव गांव से वेडरोड को जोड़ने वाले तापी नदी के ब्रिज की मनपा टेंडर प्रक्रिया शुरू की थी। करीब 100 करोड़ की लागत से बनने वाले इस ब्रिज के लिए राज्य सरकार ने 50 करोड़ देने का प्रावधान किया है। मनपा तापी नदी पर ब्रिज बनाने का कार्य जल्द शुरू करेगी।

एक ब्रिज का शिलान्यास हो चुका, दो अभी शुरुआती चरण में

- 80 करोड़ रुपए सहारा दरवाजा से करणी माता चौक फ्लाईओवर ब्रिज के लिए

- 50 करोड़ रुपए उधना से सिद्धार्थ नगर रेलवे ओवर ब्रिज के लि‍ए

- 50 करोड़ रुपए तापी नदी पर वेड से वरियाव को जोड़ने वाले ब्रिज के लिए

- - 30 करोड़ रुपए डायमंड ड्रीम सिटी प्रोजेक्ट के लिए

01 करोड़ सूरत, वड़ोदरा, राजकोट और मेहसाणा में सायबर क्राइम थाने के लिए

सहारा दरवाजा से करणी माता चौक तक ब्रिज का मॉडल

विस चुनाव के पहले सूरत मेयर ने कई शिलान्यास एक साथ किए थे, तभी इस 15 लेन के मल्टी लेयर ब्रिज का मॉडल प्रदिर्शत किया गया था, हालांकि कहा गया था कि डिजाइन में आंशिक बदलाव संभव हैं।

डायमंड वालों को दिया, टेक्सटाइल वालों की अनदेखी

खजोद विस्तार में 2,400 करोड़ के खर्च से बन रहे डायमंड बुर्श के लिए जारी किए गए 30 करोड़ में से कुछ राशि यहां सड़क, ड्रेनेज सहित अन्य सुविधाओं पर खर्च की जाएगी। दूसरी ओर टेक्सटाइल उद्योग के लिए बजट में कोई पैकेज या बड़ी राहत नहीं दी गई। इससे व्यापारियों की उम्मीदों पर पानी फिर गया। व्यापारियों को उम्मीद थी कि महाराष्ट्र की तर्ज पर बिजली की दर प्रति यूनिट 3.5 रुपए करेगी।

सुरक्षा, सेहत और एविएशन से जुड़ी तीन बड़ी घोषणाएं

- सायबर पुलिस थाना : सूरत सहित अहमदाबाद, वडोदरा, राजकोट में सायबर पुलिस थाने बनेंगे। सूरत में अभी क्राइम ब्रांच में ही एक सायबर सेल है, जिसमें एक पीएसआई और छह पुलिस कर्मी है।

- कार्डियक विभाग : सिविल में बन रहे किडनी अस्पताल मे ही कार्डियक सेन्टर बनाने का निर्णय लिया है। अहमदाबाद और वडोदरा में ये सुविधा पहले से।

- इमीग्रेशन के लिए फंड व स्टाफ : सूरत एयरपोर्ट पर इमीग्रेशन के लिए राज्य सरकार फंड व कर्मचारी के वेतन के लिए राशि उपलब्ध करवाने की मंजूरी दे दी है। इसके लिए 1.11 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।