--Advertisement--

'पप्पा बाय' कहकर घर से निकली थी मासूम, स्कूल पहुंचने से पहले ही हो गई मौत

स्कूटी पर हंसती-खेलती बैठी मेघना को खबर ही नहीं थी कि यह उसकी और पिता की आखिरी मुलाकात होगी।

Dainik Bhaskar

Dec 17, 2017, 01:41 AM IST
जयश्री बेन(L) की इकलौती बेटी मेघना(L) ने स्कूल के मेन गेट पर ही ताेड़ा दम। जयश्री बेन(L) की इकलौती बेटी मेघना(L) ने स्कूल के मेन गेट पर ही ताेड़ा दम।

सूरत. गुजरात के वलसाड में शुक्रवार की सुबह स्कूल के गेट पर एक दर्दनाक हादसा हुआ। दरअसल महिला स्कूटी से अपनी बेटी को स्कूल छोड़ने आई थी। इस दौरान मां-बेटी ट्रैक्टर की चपेट में आ गई। हादसे में बच्ची के सिर पर ट्रैक्टर का पहिया चढ़ने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जबकि, उसकी मां के दाहिने हाथ जख्मी हो गया। 'पप्पा बाय-बाय' कहकर घर से निकली इकलौती बेटी हमेशा के लिए अलविदा...

- रेमंड कंपनी में नौकरी करने वाले परेश अजमेरी अपने परिवार के साथ वलसाड के अब्रामा में रहते हैं।

- इनके छोटे से परिवार में पत्नी के अलावा इकलौती बेटी थी और परिवार हंसी-खुशी से रहता था, लेकिन शुक्रवार को उनकी खुशियां मातम में बदल गईं।

- परेश भीमराव रेमंड कंपनी में नाइट शिफ्ट करके सुबह घर पहुंचे ही थे, तभी उनकी पत्नी जयश्रीबेन हमेशा की तरह अपनी स्कूटी पर बेटी मेघना को सरस्वती इंटर स्कूल में छोड़ने निकल रही थी।

- पापा को बाय-बाय कहकर स्कूल जाते वक्त स्कूटर पर हंसती-खेलती बैठी मेघना को खबर ही नहीं थी कि यह उसकी और पिता की आखिरी मुलाकात होगी।

- जयश्रीबेन स्कूटी से स्कूल के मेन गेट पर पहुंच ही रही थी कि अचानक मोड़ पर पीछे से तेज रफ्तार से अाने वाले ट्रैक्टर ने स्कूटी को जोर से टक्कर मार दी।

- टक्कर इतनी जोरदार थी कि मां और बेटी उछलकर रोड पर जा गिरीं। इसी दौरान पीछे से आने वाला ट्रैक्टर जयश्रीबेन के दाहिने हाथ और मेघना के सिर से गुजर गया। मासूम मेघना की माैके पर ही मौत हो गई, जबकि मेघना के दाहिने हाथ को चोट पहुंची।

- हालांकि, खून से लथपथ मां-बेटी की वहां मौजूद लोगों ने मदद की पूरी कोशिश की आैर तुरंत इलाज के लिए हॉस्पिटल भी ले गए।

घटना के बाद फरार हो गया ट्रैक्टर चालक

स्कूटर को पीछे से टक्कर मारने वाले ट्रैक्टर का ड्राइवर लोगों की भीड़ देखकर मौके से तुरंत से फरार हो गया। लोगों ने आवाज भी लगाई, लेकिन तक तक वह भागने में कामयाब रहा। जानकारी के मुताबिक, आरोपी किसी भी पुलिस थाने में हाजिर नहीं हुआ है।

जयश्री बेन के दाहिने हाथ का किया गया ऑपरेशन
वजनदार ट्रैक्टर का पहिया जयश्रीबेन के दाहिने हाथ के ऊपर से गुजर गया था। साथ ही उसके माथे और हाथ पर गंभीर चोट लगी थी। हॉस्पिटल में डॉक्टर को उनके हाथ का ऑपरेशन करना पड़ा।

हादसे में स्कूटी सवार मेघना का खून सड़क पर फैल गया। हादसे में स्कूटी सवार मेघना का खून सड़क पर फैल गया।
हादसे में मासूम मेघना की माैके पर ही मौत हो गई। हादसे में मासूम मेघना की माैके पर ही मौत हो गई।
जूनियर किंडरगारटेन(KG) में पढ़ती थी मासूम मेघना। जूनियर किंडरगारटेन(KG) में पढ़ती थी मासूम मेघना।
स्कूटर को पीछे से टक्कर मारने वाले ट्रैक्टर का ड्राइवर लोगों की भीड़ देखकर मौके से तुरंत से फरार हो गया। स्कूटर को पीछे से टक्कर मारने वाले ट्रैक्टर का ड्राइवर लोगों की भीड़ देखकर मौके से तुरंत से फरार हो गया।
इसी ट्रैक्टर की चपेट में आ गई मां-बेटी। इसी ट्रैक्टर की चपेट में आ गई मां-बेटी।
X
जयश्री बेन(L) की इकलौती बेटी मेघना(L) ने स्कूल के मेन गेट पर ही ताेड़ा दम।जयश्री बेन(L) की इकलौती बेटी मेघना(L) ने स्कूल के मेन गेट पर ही ताेड़ा दम।
हादसे में स्कूटी सवार मेघना का खून सड़क पर फैल गया।हादसे में स्कूटी सवार मेघना का खून सड़क पर फैल गया।
हादसे में मासूम मेघना की माैके पर ही मौत हो गई।हादसे में मासूम मेघना की माैके पर ही मौत हो गई।
जूनियर किंडरगारटेन(KG) में पढ़ती थी मासूम मेघना।जूनियर किंडरगारटेन(KG) में पढ़ती थी मासूम मेघना।
स्कूटर को पीछे से टक्कर मारने वाले ट्रैक्टर का ड्राइवर लोगों की भीड़ देखकर मौके से तुरंत से फरार हो गया।स्कूटर को पीछे से टक्कर मारने वाले ट्रैक्टर का ड्राइवर लोगों की भीड़ देखकर मौके से तुरंत से फरार हो गया।
इसी ट्रैक्टर की चपेट में आ गई मां-बेटी।इसी ट्रैक्टर की चपेट में आ गई मां-बेटी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..