Hindi News »Gujarat »Surat» Summons Against Jignesh Bhajiyawala And Father

बेल पर रिहा होते ही जिग्नेश भजियावाला तलब, समन्स भेज प्रॉपर्टी मामले में IT ने मांगी सफाई

पिता और बेटे से 1 करोड़ नकद, 250 संपत्तियों के दस्तावेज आैर बेनामी लॉकर से सोने-चांदी के जेवर भी बरामद हुए थे।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 09, 2018, 05:10 AM IST

बेल पर रिहा होते ही जिग्नेश भजियावाला तलब, समन्स भेज प्रॉपर्टी मामले में IT ने मांगी सफाई

सूरत.नोटबंदी के बाद बड़े पैमाने पर पुरानी करेंसी नोट आैर जेवर मिलने के मामले में फाइनेंसर किशोर आैर जिग्नेश भजियावाला के खिलाफ कई मामले दर्ज हुए थे। इस मामले में आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) आैर सीबीआई ने भी जांच की थी। हाल ही में जमानत पर रिहा हुए जिग्नेश भजियावाला को आयकर विभाग ने समन्स भेजकर तलब किया है। आयकर विभाग ने यह समन्स जिग्नेश के पास करोड़ों रुपए की संपत्ति उसने कैसे हासिल की उसका स्पष्टीकरण के लिए भेजा है। माना जा रहा है कि जिग्नेश के हाजिर न होने पर उसे 10 हजार रुपए तक जुर्माना हो सकता है।

जेल में तबियत बिगड़ने पर नहीं लिया जा सका था जिग्नेश का स्टेटमेंट

नोटबंदी के बाद पुरानी नोट आैर बैंक लॉकर से बड़े पैमाने पर जेवर बरामद होने के बाद जिग्नेश को गिरफ्तार किया गया था। अहमदाबाद जेल में बंद जिग्नेश को स्टेटमेंट लेने के लिए अहमदाबाद ग्रामीण कोर्ट में भी आयकर विभाग द्वारा याचिका दायर की गई थी। कोर्ट से मंजूरी मिलने के बाद जेल में ही आयकर विभाग के अधिकारियों ने जिग्नेश की संपत्ति को लेकर जिग्नेश से स्टेटमेंट लेना शुरू किया था। उस दौरान जिग्नेश की तबियत बिगड़ने पर आईटी विभाग द्वारा जिग्नेश का स्टेटमेंट पूर्ण तौर से नहीं लिया जा सका था।

एक करोड़ रुपए नकद किए थे जब्त
नवंबर 2016 में नोटबंदी के बाद भजियावाला प्रकरण में इन्वेस्टिगेशन विंग के अधिकारी राजीव नाबर के नेतृत्व में हुई जांच में किशोर आैर उसके बेटे जिग्नेश के पास से एक करोड़ रुपए नकद, 250 संपत्तियों के दस्तावेज आैर पीपुल्स बैंक के बेनामी लॉकर से सोने-चांदी के जेवर भी बरामद हुए थे। आईटी, ईडी आैर सीबीआई द्वारा जांच शुरू की गई थी।

दस समन्स के बाद पेश हुआ था
जिग्नेश से पूर्व उसके पिता किशोर भजियावाला को भी आयकर विभाग ने समन्स जारी किए थे। दस बार समन्स जारी होने के बाद किशोर आयकर विभाग के समक्ष उपस्थित हुआ था। उस वक्त उसे एक लाख रुपए जुर्माने के तौर पर अदा करने पड़े थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Surat News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: bel par rihaa hote hi jiganesh bhjiyaavaalaa tlb, smns bhej proparti maamle mein IT ne maangi sfaaee
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×