Home | Gujarat | Surat | surat city pad woman meena distributes sanitary napkin

ये हैं सूरत की पैडवुमन, डस्टबिन से सेनेटरी पैड ले जाती लड़कियों को देख लिया था फैसला

मीना पिछले 5 साल से सूरत के सरकारी स्कूलों और स्लम इलाकों हर महाने बांट रहीं 5 हजार किट।

मेहुल पटेल| Last Modified - Jan 29, 2018, 09:55 AM IST

surat city pad woman meena distributes sanitary napkin
ये हैं सूरत की पैडवुमन, डस्टबिन से सेनेटरी पैड ले जाती लड़कियों को देख लिया था फैसला

सूरत.  पैडमैन फिल्म में तमिलनाडु के अरुणाचलम मुरुगनंथम का किरदार निभा रहे अक्षय कुमार की तरह मीना मेहता भी सूरत की पैडवुमन कही जा सकती हैं। यहां पार्ले पॉइंट में रहने वाली गृहिणी मीना का उनके पति अतुल मेहता भी साथ देते हैं। मीना ने यह 5 साल पहले यह मिशन तब छेड़ा जब उन्होंने स्लम एरिया की दो लड़कियों को डस्टबिन से यूज्ड सेनेटरी पैड ले जाते हुए देखा। कार रोककर जब उन लड़कियों से पूछा तो जवाब मिला कि वे खरीद नहीं सकती इसलिए उन्हें साफ कर काम में लेंगी। इस वाकये ने मीना को भीतर तक झकझोर दिया था। उन्होंने तभी ठान लिया था कि स्लम की ऐसी जरूरतमंद लड़कियों और महिलाओं के लिए सेनेटरी पैड उपलब्ध कराएंगी। 

 

पिछले 5 साल से पूरा किट मुफ्त बांटती हैं मीना

मीना अपने पति के साथ पिछले 5 साल से सूरत के सरकारी स्कूलों और स्लम इलाकों में जाती हैं और पूरा किट निशुल्क बांटती हैं। इस किट में सेनेटरी पैड के साथ ही साबुन, शैम्पू और अंडर वियर होते हैं। एक किट पर 60 रुपए का खर्च आता है, जो दंपती खुद तैयार करता है। इतना ही नहीं वे उपयोग किए सेनेटरी पैड को डिस्पोजल करने का तरीका बताकर स्वच्छता की शपथ भी दिलाती हैं। 

 

सुधा मूर्ति से मिली 1 लाख की मदद 
इन्फोसिस फाउंडेशन की चेयरपर्सन सुधा मूर्ति ने भी मीना को प्रेरित किया। सुधा मूर्ति ने 2004 में सुनामी प्रभावित इलाकों में 4 ट्रक भरकर सेनेटरी पैड भेजे थे। मीना का हौसला बढ़ाने के लिए सुधा मूर्ति मीना को 1 लाख रुपए के पैड फ्री दे चुकी हैं। मीना ने अभियान की शुरुआत पति से 25 हजार रुपए लेकर की थी। अब दक्षिण अफ्रीका,थाईलैंड से भी डोनेशन आने लगा है। मीना ने मानुनि फाउंडेशन बना रखा है, जिसका फेसबुक पेज भी है। 

 

20 हजार लोगों को दिखाएंगी 'पैडमैन' 
मीना मेहता अक्षय कुमार की आने वाली फिल्म पैडमैन सूरत के 20 हजार लोगों को दिखाने की तैयारी में लगी हैं। यह फिल्म पुरुषों को भी दिखाएंगी ताकि वे भी पीरियड के दिनों में महिलाओं को होने वाली पीड़ा से अवगत हो सकें। मीना ने एक थिएटर के दो शो बुक कर दिए हैं। जैसे-जैसे डोनेशन की राशि मिलती जाएगी और शो बुक करेंगी। 

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now