--Advertisement--

करोड़ों के हीरों की लूट का पर्दाफाश, माल समेत दो आरोपी अरेस्ट

आरोपी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं, वे यहां सिक्योरिटी एजेंसी चलाते हैं।

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2018, 03:33 PM IST
पुलिस कमिश्नर ने पकड़े गए दो आरोपियों के बारे में दी जानकारी। पुलिस कमिश्नर ने पकड़े गए दो आरोपियों के बारे में दी जानकारी।

सूरत। कतारगाम पुलिस थाने से एक कि.मी. दूर बुधवार की शाम करोड़ों के हीरों की लूट के मामले में दो आरोपियों को अरेस्ट किया गया है। इसका खुलासा करते हुए पुलिस कमिश्नर सतीश शर्मा ने बताया कि दोनों आरोपी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। इनसे हीरे भी बरामद कर लिए गए हैं। हीरे आरोपी के साले के यहां थे…

कमिश्नर ने बताया कि पुलिस ने हीरे लूटने वालों को पकड़ने के लिए अपना जाल फैला दिया था। जिन दो आरोपियों को माल समेत पकड़ा गया है, उनके नाम अर्जुन उर्फ अरविंद संतनारायण भगवती प्रसाद पांडे(34) फैजाबाद जिले का है। दूसरा मानवेंद्र उर्फ मनीष कृष्णकुमार सिंह(26) अंबेडकर जिले का है। इसमें से एक आरोपी ने हीरे अपने साले के घर रखवा दिए थे। जिसे बरामद कर लिया गया है। मुख्य आरोपी अभी तक पुलिस की पकड़ से दूर है।

आरोपी सिक्योरिटी एजेंसी चलाता है

आरोपियों ने यह कबूल किया है कि वे साढ़े तीन महीनों से आरटीओ के सामने एडवांस पावर गार्ड प्रा.लि. नाम की सिक्योरिटी कंपनी चलाते हैं।

सूरत में हुई करोड़ों के हीरों की लूट का पर्दाफाश। सूरत में हुई करोड़ों के हीरों की लूट का पर्दाफाश।
मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर। मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर।
आरोपी तीन महीने से सिक्योरिटी एजेंसी चला रहे थे। आरोपी तीन महीने से सिक्योरिटी एजेंसी चला रहे थे।
X
पुलिस कमिश्नर ने पकड़े गए दो आरोपियों के बारे में दी जानकारी।पुलिस कमिश्नर ने पकड़े गए दो आरोपियों के बारे में दी जानकारी।
सूरत में हुई करोड़ों के हीरों की लूट का पर्दाफाश।सूरत में हुई करोड़ों के हीरों की लूट का पर्दाफाश।
मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर।मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर।
आरोपी तीन महीने से सिक्योरिटी एजेंसी चला रहे थे।आरोपी तीन महीने से सिक्योरिटी एजेंसी चला रहे थे।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..