--Advertisement--

सुविधा ट्रेन की बुकिंग खुलते ही किराया हो गया 10 हजार रुपए

उत्तर प्रदेश और बिहार जाने वालों की बढ़ी मुश्किलें, रेलवे ने चलाई हैं डायनेमिक किराए वाली ट्रेनें

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 04:29 AM IST

सूरत. गर्मियों की छुट्टियों में अपने घर जाने वालों के लिए रेलवे ने विशेष ट्रेनें तो चलाईं, लेकिन इनका यात्रियों को फायदा होता नहीं दिख रहा है। बल्कि, जिन ट्रेनों की घोषणा की गई, उनके किराए ने बुकिंग शुरू होने के कुछ घंटे बाद ही सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। इन ट्रेनों की बुकिंग 31 मार्च को ही शुरू हुई थी और इसके कुछ देर बाद ही सेकंड एसी कोच का किराया 10 हजार रुपए तक पहुंच गया। इसी तरह थर्ड एसी का किराया 6400 रुपए और स्लीपर कोच का किराया 2500 रुपए तक पहुंच गया, जो उत्तर प्रदेश और बिहार जाने वाले आम लोगों की क्षमता से ही बाहर हो गया। इन विशेष किराए वाली ट्रेनों के स्लीपर कोच की सीटें तो पूरी बुक हो गईं, लेकिन थर्ड और सेकंड एसी की तरफ लोगों की रुचि नहीं दिखी। ये ट्रेनें 14 और 15 अप्रैल से चलेंगी। सूरत से चलने वाली सभी ट्रेनें डायनेमिक किराए वाली हैं, जबकि सामान्य किराए वाली एक ट्रेन मुंबई से चलाई जा रही है, जिसमें बुकिंग फुल हो चुकी है।


ट्रेन की बजाय प्लेन का किराया सस्ता
14 अप्रैल से चलने वाली बांद्रा टर्मिनस-गोरखपुर सुविधा विशेष ट्रेन का किराया उधना -छपरा सुविधा ट्रेन से 4 गुना ज्यादा जा पहुंचा है। 31 मार्च को बुकिंग के पहले दिन किराया 10 हजार अधिकतम जा पहुंचा। इस ट्रेन में केवल 14 एलएचबी वाले कोच होंगे। मजेदार बात यह है कि अभी अगर सीट बुक की जाए तो इन ट्रेनों की तुलना में प्लेन का सफर सस्ता पड़ रहा है।

नियमित ट्रेनों का यह है किराया
बांद्रा टर्मिनस, सूरत और उधना से चलने वाली नियमित ट्रेनों का यूपी और बिहार के विभिन्न गंतव्यों के लिए किराया बहुत सामान्य है, लेकिन इन ट्रेनों की बुकिंग पूरी हो चुकी है। इन ट्रेनों में सूरत से गोरखपुर, वाराणसी, दानापुर और भागलपुर की बात की जाए तो स्लीपर का किराया 570 से 645 रुपए, थर्ड एसी का 1540 से 1700 रुपए और सेकंड एसी का 2430 रुपए है।

कैसे करें सफर: आम आदमी के बस से बाहर किराया
14 अप्रैल से चलने वाली 82909/10 बांद्रा टर्मिनस-गोरखपुर सुविधा विशेष ट्रेन के के पहले फेरे यानी 14 अप्रैल की यात्रा का सेकंड एसी का किराया 9885 और थर्ड एसी का किराया 6390 रुपए रहा। स्लीपर का किराया 2500 रहा। वहीं, 15 अप्रैल से चलने वाली उधना -छपरा ट्रेन में स्लीपर का किराया 2 हजार, जबकि एसी का किराया 5000 रुपए है। 11 अप्रैल से सामान्य किराए पर चलने वाली 09017/18 बांद्रा टर्मिनस-इलाहाबाद साप्ताहिक विशेष ट्रेन उधना होकर जानी है, लेकिन पहले दिन ही मुंबई से रिग्रेट हो गई।

भीड़ देखकर पता लग सकता है यात्रियों की संख्या का

यूपी बिहार जाने वालों की भीड़ का अंदाजा ट्रेनों की बुकिंग को देख कर ही लगाया जा सकता है। हालत ये है कि अप्रैल में 4 रेगुलर ट्रेनें ‘नो रूम’ बता रही हैं। बुकिंग लगभग फुल हो चुकी है। यात्रियों को टिकट विंडो से खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। ताप्ती गंगा, उधना दानापुर जैसी ट्रेनें रिग्रेट हो चुकी हैं और बांद्रा-गोरखपुर, उधना -छपरा विशेष ट्रेन का किराया हवाई किराए के बराबर हो चुका है।

ये चलनी हैं विशेष ट्रेनें

82911/12 उधना -छपरा ‘सुविधा’ (14 ट्रिप) 15 अप्रैल से
09019/20 उधना -छपरा स्पेशल (8 ट्रिप) 3 जून से
82909/10 बांद्रा टर्मिनस-गोरखपुर ‘सुविधा’ (14 ट्रिप) 14 अप्रैल से
09015/16 बांद्रा टर्मिनस-गोरखपुर स्पेशल (10 ट्रिप) 2 जून से
09017/18 बांद्रा टर्मिनस-इलाहाबाद स्पेशल (24 ट्रिप) 11 अप्रैल से
04134/33 बांद्रा टर्मिनस-इलाहाबाद स्पे. (26 ट्रिप) 5 अप्रैल से
09103/04 वडोदरा-रीवा स्पेशल (22 ट्रिप) 14 अप्रैल से