--Advertisement--

10 साल में ट्रक ड्राइवर से बना करोड़पति कारोबारी, अाज जीते हैं एेसी लाइफ

गुजरात के नरेश 11 हजार वॉट करंट लगने के बाद 3 महीने कोमा में रहे, उबरने के बाद बनाया 1 करोड़ रु. का कारोबार।

Dainik Bhaskar

Jan 24, 2018, 03:39 AM IST
एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में जनरल मैनेजर हैं नरेश प्रजापति। एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में जनरल मैनेजर हैं नरेश प्रजापति।

अहमदाबाद. अहमदाबाद के नरेश प्रजापति की गिनती शहर के कामयाब कारोबारियों में होती है। 10 साल पहले अहमदाबाद में एक मामूली ट्रक ड्राइवर नरेश के आज 22 ट्रक चलते हैं और कारोबार करीब 1 करोड़ से ज्यादा का है। लेकिन नरेश की कामयाबी से ज्यादा बेमिसाल उनका यहां तक पहुंचने का सफर रहा है।

दो महीने कोमा में रहे, 17 ऑपरेशन से गुजरे थे

- 2007 में साणंद में नरेश प्रजापति अपने ट्रक से जा रहे थे, तभी 11000 वॉट की बिजली लाइन की चपेट में आ गए। करंट इतना तेज था कि नरेश के शरीर का 50% हिस्सा बुरी तरह झुलस गया। दो महीने नरेश कोमा में रहे। 17 ऑपरेशन हुए।

- नरेश की हालत कुछ सुधरी तो परिवार वालों ने उन्हें अस्पताल के बिल के बारे में बताया। नरेश ने बताया कि उनके खाते में करीब डेढ़ लाख रुपए हैं, जिससे परिवार वाले बिल चुका सकते हैं। परिवार वालों ने उन्हें बताया कि खाते का पूरा पैसा खत्म हो चुका है और अब परिवार पर आठ लाख रुपए कर्ज भी हो चुका है। सदमे में नरेश फिर कोमा में चले गए।

कभी की गई पुलिसवालों की मदद आई काम

- आखिर एक महीने बाद उनकी हालत में कुछ सुधार आया। नरेश के पुराने दिनों में किए अच्छे कामों ने उन्हें इस मुश्किल दौर में मदद की।

- 2002 के गुजरात दंगों के समय वो रात-दिन ड्यूटी करने वाले कुछ पुलिसकर्मियों को खाना खिलाते थे। इन्हीं में से कुछ पुलिसकर्मी नरेश की हालत का पता चलने पर आगे आए और मेडिकल बिल भरने में मदद की। बाकी पैसा लोगों से उधार लिया और अस्पताल का बिल चुकाया।

इलाज के वक्त हुआ कर्ज भी चुकाया

- अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद नरेश ने जिंदगी को वापस पटरी पर लाने की जद्दोजहद शुरू की। उन्होंने अपने ट्रांसपोर्ट कारोबार को ही आगे बढ़ाने की कोशिश में जुट गए।

- इसी दौरान वो एक कंपनी के डायरेक्टर के कॉन्टेक्ट में आए और उनकी कंपनी के लिए कंसल्टेंटी और लीगल लाइजनिंग का काम शुरू कर दिया।

- धीमे-धीमे कंपनी ने तरक्की की। डायरेक्टर ने भी नरेश की मेहनत को सराहा। कंपनी के साथ-साथ नरेश भी आगे बढ़ते गए। अब वो इसी कंपनी में जनरल मैनेजर के पद तक पहुंच चुके हैं।

आज दो करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी के हैं मालिक और मजबूत हौंसला

इलाज के वक्त जितना भी कर्ज लिया था, सारा अब चुका दिया है। उनके पास करीब दो करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी है। जो नरेश कभी खुद ड्राइवर थे, आज शहर में उनके ट्रक चलते हैं। नरेश का शरीर अब पहले की तरह दुरुस्त नहीं रहा, पंजा काम नहीं करता, लेकिन उनका हौसला अब पहले से कहीं ज्यादा मजबूत हो चुका है।

नरेश प्रजापति अपने परिवार के साथ । नरेश प्रजापति अपने परिवार के साथ ।
कारोबार के सिलसिले में नरेश अक्सर हवाई सफर करते हैं। कारोबार के सिलसिले में नरेश अक्सर हवाई सफर करते हैं।
नरेश प्रजापति की गिनती अहमदाबाद के कामयाब कारोबारियों में होती है। नरेश प्रजापति की गिनती अहमदाबाद के कामयाब कारोबारियों में होती है।
जो नरेश कभी खुद ड्राइवर थे, आज शहर में उनके ट्रक चलते हैं। जो नरेश कभी खुद ड्राइवर थे, आज शहर में उनके ट्रक चलते हैं।
X
एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में जनरल मैनेजर हैं नरेश प्रजापति।एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में जनरल मैनेजर हैं नरेश प्रजापति।
नरेश प्रजापति अपने परिवार के साथ ।नरेश प्रजापति अपने परिवार के साथ ।
कारोबार के सिलसिले में नरेश अक्सर हवाई सफर करते हैं।कारोबार के सिलसिले में नरेश अक्सर हवाई सफर करते हैं।
नरेश प्रजापति की गिनती अहमदाबाद के कामयाब कारोबारियों में होती है।नरेश प्रजापति की गिनती अहमदाबाद के कामयाब कारोबारियों में होती है।
जो नरेश कभी खुद ड्राइवर थे, आज शहर में उनके ट्रक चलते हैं।जो नरेश कभी खुद ड्राइवर थे, आज शहर में उनके ट्रक चलते हैं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..