--Advertisement--

गुजरात के इस इंलाके के लोगों के लिए मोदी अभी भी हैं CM, कांग्रेस यानी इंदिरा की पार्टी

एक बड़ी संख्या ऐसे लोगों की भी है जो बीजेपी का नाम तक नहीं जानते।

Dainik Bhaskar

Dec 14, 2017, 05:57 AM IST
छोटा उदेपुर-पावी जेतपुर जैसे आदिवासी बहुल इलाकों में अधिकतर लोग ऐसे हैं जो अभी भी मोदी को मुख्यमंत्री ही मानते हैं।  - फाइल फोटो। छोटा उदेपुर-पावी जेतपुर जैसे आदिवासी बहुल इलाकों में अधिकतर लोग ऐसे हैं जो अभी भी मोदी को मुख्यमंत्री ही मानते हैं। - फाइल फोटो।

छोटा उदेपुर(गुजरात). नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री बने तीन साल बीत चुके हैं, लेकिन गुजरात के छोटा उदेपुर-पावी जेतपुर जैसे आदिवासी बहुल इलाकों में अधिकतर लोग ऐसे हैं जो अभी भी मोदी को मुख्यमंत्री ही मानते हैं। वहीं, कांग्रेस को अब भी यहां पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पार्टी के नाम से जाना जाता है। समग्र तौर पर राजनीति की बात करें तो छोटा उदेपुर के गांवों में रहने वाले आदिवासी केवल दो नेताओं, नरेंद्र मोदी और इंदिरा गांधी को ही जानते हैं। वहीं, एक बड़ी संख्या ऐसे लोगों की भी है जो बीजेपी का नाम तक नहीं जानते।


- छोटा उदेपुर के नजदीक रहने वाले रामसिंह राठवा (50) बताते हैं कि उनका परिवार वर्षों से कांग्रेस को वोट देता रहा है, पर अब हमारे परिवार और आसपास के लोग 'मोदी साहेब’ की पार्टी को वोट देते हैं। रामसिंह राठवा कांडा गांव के रहने वाले हैं।

- वहीं, जोगपुरा के रहने वाले दिलीप राठवा बताते हैं कि चुनाव में मोदी और कांग्रेस के बीच टक्कर है। दिलीप ने कहा कि हमारे इलाके में मोदी लोकप्रिय हैं, पर कांग्रेस के उम्मीदवार मोहनसिंह राठवा बीच-बीच में उनके गांव में आते रहते हैं। इतना ही शादी आदि मौकों पर मोहनसिंह आने से नहीं चूकते हैं।


मुस्लिम वोटर भी नेताओं से अनजान

पावी जेतपुर स्कूल की शिक्षिका सुमनबेन परमार का कहना है कि मोदी इस इलाके में सबसे लोकप्रिय नेता हैं। गांव के अधिकांश लोग दूसरे नेताओं का नाम तक नहीं जानते हैं। आदिवासी बहुल इलाके के कई गांवों में मुस्लिम समाज की आबादी सबसे अधिक है। मुस्लिम वोटर भी मोदी के अलावा दूसरे नेताओं का नाम नहीं जानते हैं। किसी पार्टी के नाम पूछे जाने पर उन लोगों ने भी अनभिज्ञता जताई।

‘मोदी इस बार भी जीत कर सीएम बनेंगे’

कांडा गांव के रहने वाले लोग 'कमल’ के निशान से बीजेपी को पहचानते हैं। चुनाव में कौन जीतेगा के जवाब में ग्रामीणों ने बड़े उत्साह से कहा कि “इस बार भी चुनाव जीतकर नरेन्द्र मोदी मुख्यमंत्री बनेंगे।" भोले-भाले आदिवासी अभी इस बात से अनजान हैं कि मोदी तीन साल पहले मुख्यमंत्री पद छोड़कर देश के प्रधानमंत्री बन चुके हैं। मोदी के पीएम बनने की बात सुनकर कई लोगों ने आश्चर्य जताया।

tribes not aware about modi and gandhi current status
X
छोटा उदेपुर-पावी जेतपुर जैसे आदिवासी बहुल इलाकों में अधिकतर लोग ऐसे हैं जो अभी भी मोदी को मुख्यमंत्री ही मानते हैं।  - फाइल फोटो।छोटा उदेपुर-पावी जेतपुर जैसे आदिवासी बहुल इलाकों में अधिकतर लोग ऐसे हैं जो अभी भी मोदी को मुख्यमंत्री ही मानते हैं। - फाइल फोटो।
tribes not aware about modi and gandhi current status
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..