Hindi News »Gujarat »Surat» Woman Assaulted By Financier At Office

फाइनेंसर के ऑफिस पहुंची महिला से ज्यादती की कोशिश, भागकर बचाई इज्जत

मामले की पुलिस से शिकायत करने पर महिला को मिली जान से मारने की धमकी।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 01, 2018, 07:20 AM IST

फाइनेंसर के ऑफिस पहुंची महिला से ज्यादती की कोशिश, भागकर बचाई इज्जत

सूरत.डिंडोली में एक विधवा महिला ने अपनी जरूरत के लिए फाइनेंसर से ब्याज पर पैसे लिए थे। इसके लिए फाइनेंसर ने उसके घर के कागजात बतौर गिरवी रख लिया था। गैरकानूनी रूप से दिए गए इस कर्ज के फाइनेंसर ने 10 प्रतिशत ब्याज भी वसूला। महिला का दावा है कि उसने सारे पैसे चुका दिए फिर भी फाइनेंसर उसे परेशान कर रहा था। चार दिन पहले ही उसने घर के कागजात देने के लिए अपने ऑफिस बुलाया था, जहां फाइनेंसर सहित दो लोगों ने उसके साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की। किसी तरह उनके चंगुल से निकलकर अपनी इज्जत बचाई।

पैसे चुकाने के बाद भी पैसे की मांग करता था आरोपी फायनेंसर
- डिंडोली की रहने वाली 32 साल की एक विधवा महिला ने तीन साल पहले निजी जरूरत के लिए हरीश मौर्या से 70 हजार रुपए लिए थे, जिसके लिए हरीश ने 10 प्रतिशत ब्याज लगाया था। महिला का कहना है कि उसने समय पर ब्याज और पूरे पैसे भी धीरे-धीरे कर चुका दिए। फिर भी मौर्या उससे पैसे की मांग करता था। उसने जब भी अपने घर के कागजात मांगे उसने और पैसे देने की मांग की। चार दिन पहले वह नवागाम जूना जकातनाका के पास द्वारकेश्वर स्थित उसके ऑफिस पर घर के कागजात लेने गई थी। वहीं पर हरीश ने रेशमा के साथ बदतमीजी की। घटना के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए।

पुलिस से शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी

हरीश को आशंका थी कि महिला पुलिस में फरियाद कर सकती है। इसी के चलते घटना के बाद रात को हरीश अपने साथी मुकेश बिहारी के साथ महिला के घर गया। जहां उसके घर पर पथराव कर पुलिस फरियाद करने पर बच्चों को जान से मारने की धमकी दी। उसके बाद डर की वजह से महिला कहीं चली गई। शनिवार को पीड़िता ने आरोपी हरीश मौर्या और मुकेश बिहारी के खिलाफ डिंडोली पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए उनके घर पर छापेमारी की, लेकिन दोनों नहीं मिले।

गैरकानूनी : आरोपी फाइनेंसर के पास नहीं है लाइसेंस
शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी हरीश मौर्या के पास ब्याज पर पैसे देने का लाइसेंस नहीं है। ऐसे में सवाल उठता है कि वह बिना लाइसेंस के पैसे कैसे दे सकता है। पिछले दिनों पुलिस कमिश्नर ने भी ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही थी। शहर में ऐसे कई मामले भी आ चुके हैं, जिसमें ऐसे फाइनेंसर लोगों से मनमानी ब्याज वसूलते हैं, जिसके कारण कई लोगों ने या तो आत्महत्या के प्रयास किए या फिर उनपर जानलेवा हमले हुए। पुलिस कमिश्नर ने लोगों से अपील भी की थी कि ऐसे लोगों की शिकायत नजदीकी पुलिस स्टेशन में दें ताकि उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सके।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Surat News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: faainensr ke aufis pahunchi mahila se jyaadti ki koshish, bhaagakar bchaaee ijjt
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×