--Advertisement--

सौतेली मां ने 6 साल के बेटे को सूटकेश में बंद कर ले ली जान, पिता ढूंढता रहा

ढूंढने पर उसके पिता शांतिलाल को वह अपने ही घर में एक सूटकेस में बेहोश मिला था।

Danik Bhaskar | Feb 08, 2018, 06:45 AM IST
6 साल का मासूम और उसकी हत्यारी सौतेली मां जीनलबेन। 6 साल का मासूम और उसकी हत्यारी सौतेली मां जीनलबेन।

सुरेन्द्रनगर. गुजरात के सुरेन्द्रनगर में मंगलवार शाम 6 साल का बच्चा लापता हो गया था। उसकी सौतेली मां ने उसके खो जाने की बात लेकर जमकर शाेर मचाया था। जिसके बाद बच्चे के पिता ने उसे खोजने की काफी कोशिश की, लेकिन कामयाबी न मिलने पर उसने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। जांच करने पर घर के एक सूटकेस में बच्चे की लाश मिली। पुलिस ने शक होने पर महिला से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

हत्यारी मां ने की सबको गुमराह करने की काेशिश

सुरेन्द्रनगर के कृष्णनगर के रहने वाले शांतिलाल का 6 साल का बेटा ध्रुव अचानक लापता हो गया था। बच्चे की मां जीनलबेन परमार ने सबको शोर मचाते हुए बताया कि उसका बेटा 2 घंटे से नहीं मिल रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पिता शांतिलाल ने मंगलवार की शाम थाने जाकर ध्रुव की गुमशुदगी दर्ज करवाई थी। जब जांच के लिए पुलिस शांतिलाल के घर पहुंची तो घर की सीढ़ियों के नीचे दो सूटकेस पड़े दिखे। सूटकेस खोलने पर सभी हैरान रह गए। सूटकेस में दुपट्टे में लिपटी बच्चे की लाश रखी थी। इस दौरान जीनल पर पुलिस को शक हुआ। जब पुलिस ने उससे सूटकेस के बारे में पूछा तो पहले तो वह टाल-मटोल करने लगी, लेकिन कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने सारा सच उगल दिया। पुलिस ने आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया है।

बच्चा नहीं करने की शर्त पर हुई थी शादी
जानकारी के मुताबिक, लेबर कमिश्नरेट में बतौर प्यून काम करने वाले शांतिलाल परमार ने सालभर पहले ही जीनल से शादी की थी। ये इन दोनों की दूसरी शादी थी। शांतिलाल का पहली पत्नी से 6 साल का बेटा ध्रुव था। वहीं जीनल को अपने पहले पति से 6 साल की एक बेटी है। दोनों ने इस रजामंदी के साथ शादी की थी कि वे तीसरा बच्चा नहीं करेंगे।

बेटी की फिक्र में बन गई हत्यारी

शादी के बाद से ही जीनल अपनी पहली शादी से हुई बेटी को लेकर काफी फिक्रमंद थी। उसे डर था कि उसके दूसरे पति शांतिलाल की सारी जायदाद उसके पहली पत्नी से बेटे ध्रुव काे मिली जाएगी, लेकिन उसकी खुद की बेटी का क्या होगा। इसी फ्रिक्र और डर में उसने मंगलवार दोपहर अपने सौतेले बेटे ध्रुव की पैंट निकालकर उसी से उसका गला दबा घोंट दिया और अपना जुर्म छिपाने लोगो को गुमराह करने की काेशिश की।

इसी सूटकेस में हत्या के बाद ठिकाने लगा दी थी मासूम की लाश। इसी सूटकेस में हत्या के बाद ठिकाने लगा दी थी मासूम की लाश।
मामाले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने खोजी कुत्तों की मदद भी ली। मामाले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने खोजी कुत्तों की मदद भी ली।
लाश के साथ सूटकेस में मिले कपड़ा और खोजी कुत्ते से जांच में मदद लेती पुलिस। लाश के साथ सूटकेस में मिले कपड़ा और खोजी कुत्ते से जांच में मदद लेती पुलिस।
इसी मकान में रहता है परमार परिवार। जहां इस वारदात को अंजाम दिया गया। इसी मकान में रहता है परमार परिवार। जहां इस वारदात को अंजाम दिया गया।
माामले की खबर मिलते ही इलाके में लाेग इकट्ठे हो गए। माामले की खबर मिलते ही इलाके में लाेग इकट्ठे हो गए।
मामले में आसपास के लोगों से भी की गई पूछताछ। मामले में आसपास के लोगों से भी की गई पूछताछ।