--Advertisement--

अब 63 नहीं 32 मंजिला होगी सूरत स्टेशन की बिल्डिंग, फिर भी देश में सबसे ऊंची

हमारा वर्ल्ड क्लास स्टेशन : डिजाइन में बदलाव के बाद घटी ऊंचाई

Dainik Bhaskar

Jan 30, 2018, 10:21 AM IST
पहले के प्लान में ऐसी थी 63 मंजि पहले के प्लान में ऐसी थी 63 मंजि

सूरत. सूरत के वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन बिल्डिंग अब 63 नहीं 32 मंजिला ही बनेगी। नई डिजाइन मंजूर होने के बाद घटी ऊंचाई के बावजूद भी हमारा 32 मंजिला स्टेशन देश में सबसे ऊंची बिल्डिंग वाला होगा। नए सिरे से टेंडर प्रक्रिया शुरू होने के बाद चार महीने में निर्माण शुरू होने की उम्मीद है। इसके लिए 4650 करोड़ रुपए की लागत तय की गई थी। सांसद सीआर पाटिल ने दैनिक भास्कर को बताया कि सूरत के वर्ल्ड क्लास स्टेशन प्रोजेक्ट को लेकर हमने केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात की थी। इसके बाद ऊंचाई और िडजाइन में बदलाव किया गया। सांसद ने भी चार महीनों में काम शुरू होने की बात कही है।

7 कंपनियां सौंप चुकी थीं डीपीआर

पहले प्रस्तावित 63 मंजिला स्टेशन के लिए 30 कंपनियों ने रूचि दिखाई थी। सात कंपनियों अडानी, एमबीएसबी, आईआरईएफ, क्यू कंस्ट्रक्शन, डीआरआईटीएल, जेपी इंफ्रा ने डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) सौंप दी थी। पहले वाला प्लान फरवरी 2017 में बना था और सितंबर 2017 में काम शुरू होना प्रस्तावित था।

एसएमसी ने जमीन दे दी, निजी का अधिग्रहण होना बाकी

स्टेशन को बहुमंजिला बनाने संबंधी जमीन अधिग्रहण का कार्य पूरा हो चुका है। मनपा अधिकारियों ने बताया कि महानगर पालिका की तरफ से करीब 6800 वर्ग मीटर की पार्किंग की जमीन रेलवे को दी जा चुकी है। निजी जमीनों का अधिग्रहण किया जाना है। इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन (आईआरएसडीसी) के एक अधिकारी ने बताया कि स्टेशन को वर्ल्ड क्लास बनाने के लिए अभी रिक्वेस्ट ऑफ़ पॉलिसी पर काम किया जा रहा है। नए डिजाइन के बाद टेंडर पर विचार किया जा रहा है।

2 बदलाव ये भी

- अब यह प्रोजेक्ट पीपीपी की बजाय ईपीसी में पूरा होगा। डिप्टी जनरल मैनेजर और रेलवे बोर्ड की बैठक में डिजाइन में बदलाव किया गया।

- पहले आईआरएसडीसी इस प्रोजेक्ट को देख रही थी, लेकिन अब नई बनी यूनिट सूरत इंटीग्रेटेड ट्रासंपोर्ट डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन देखेगा।

X
पहले के प्लान में ऐसी थी 63 मंजिपहले के प्लान में ऐसी थी 63 मंजि
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..