--Advertisement--

भागवनगर विधानसभा : 7 सीटों के लिए 71 कैंडिडेट, भाजपा ने 4 को किया रिपीट

भाजपा ने 4 सीटों पर विधायक रिपीट किए हैं जबकि कांग्रेस ने एक मात्र सीट पर विधायक को फिर से टिकट दिया है।

Danik Bhaskar | Nov 30, 2017, 04:28 AM IST

भावनगर. जिले की 7 सीटों के लिए 71 उम्मीदवार मैदान में उतरे हैं। भाजपा ने 4 सीटों पर विधायक रिपीट किए हैं जबकि कांग्रेस ने एक मात्र सीट पर विधायक को फिर से टिकट दिया है। यहां प्रदेश भाजपा, निर्दलीय, संसदीय सचिव और राज्य स्तरीय मंत्री होने के कारण राज्यभर की नजर भावनगर पर रही है।

महुवा : त्रिकोणी जंग होगी
भाजपा ने आरसी मकवाणा और कांग्रेस ने विजय बारैया, दोनों ने नए उम्मीदवार उतारे है। भाजपा ने विधायक के पति को उतारा है। मोदी के सामने डाॅ. कनू कबसरिया ने निर्दलीय उम्मीदवारी जताने के बाद यहां पर त्रिकोणी जंग लड़ी जाएगी।

तवाज : नए उम्मीदवार, पार्टी को प्राथमिकता
भाजपा ने गौतम चौहान और कांग्रेस ने कनू बारैया को नए उम्मीदवार के तौर पर चुनाव मैदान में उतारा है। जाति के आधार पर कोली समाज के यहां पर अधिक मतदाता है।

गारियाधार - दो पाटीदार उम्मीदवार के बीच होगी जंग
पाटीदार प्रभूत्ववाली सीट पर भाजपा ने केशु नाकराणी और कांग्रेस ने पीएम खेनी को उतारा है। 5 टर्म से विजेता नाकराणी को भाजपा ने रिपीट किया है।

पालिताणा : भाजपा की राह कठिन
कांग्रेस की इस सीट पर से बीते चुनाव में वर्तमान जिला भाजपा प्रमुख पराजित हुए थे। इस बार भाजपा ने भीखाभाई बारैया और कांग्रेस से प्रवीण राठौड़, दोनों ने काेली उम्मीदवार उतारे है। भाजपा के ही अग्रणी को टिकट नहीं मिलने से निर्दलीय से उम्मीदवारी जताने के बाद रस्साकशी देखने को मिलेगी।

भावनगर (ग्रामीण): जीत के लिए जाति समीकरण को माना जा रहा है महत्वपूर्ण
सबसे ज्यादा कोली मतदाता वाले इस सीट पर पुरुषोत्तम सोलंकी 4 टर्म से जीत रहे हैं। कांग्रेस के समय कोली समाज के एडवोकेट कांतिभाई चौहान को मैदान में उतारा है। जाति समीकरण के हिसाब से उम्मीदवार की जीत पक्की मानी जा रही है।


भावनगर (पूर्व): दो महिलाओं के बीच होगी कांटे की टक्कर

इस सीट पर कोली समाज के मतदाताओं का प्रभुत्व है लेकिन दूसरे स्थान पर ब्राह्मण-वणिक हंै। कांग्रेस ने कोली समाज के महिला उम्मीदवार उतारने के बाद भाजपा ने संसदीय सचिव विभावरी बेन दवे और कांग्रेस की नीता बेन राठौड़ दोनों महिला उम्मीदवारों के बीच कांटे की टक्कर होगी।

भावनगर (पश्चिम): मिश्र मतदाताओं पर निर्भर है वाघाणी, गोहिल की जीत
भाजपा के प्रदेश प्रमुख जीतू वाघाणी के खिलाफ कांग्रेस ने क्षत्रिय उम्मीदवार और पूर्व विधायक दिलीपसिंह गोहिल को मैदान में उतारा है। इस सीट पर कोली मतदाता अधिक है लेकिन पाटीदार और क्षत्रिय के बीच ब्राह्मण, मुस्लिम और दलित समाज पर दारोमदार है।