--Advertisement--

जेटली गुजरात के लिए बोझ, कुर्सी छोड़ने की मांग करना सही : सिन्हा

पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा कि मौजूदा वित्त मंत्री अरूण जेटली को वह गुजरात पर बोझ मानते हैं।

Danik Bhaskar | Nov 15, 2017, 04:32 AM IST
अहमदाबाद. पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा कि मौजूदा वित्त मंत्री अरूण जेटली को वह गुजरात पर बोझ मानते हैं। जीएसटी को लागू करने में गड़बड़ी और इस मामले में ‘चित मैं जीता, पट तुम हारे’ की तर्ज पर बर्ताव कर रहे जेटली से कुर्सी छोड़ने की मांग का जनता का वाजिब हक मानते हैं।
हालांकि देश में कारोबारी सुगमता यानी इज ऑफ डूइंग बिजनेस के मामले में विश्व बैंक की रिपोर्ट में भारत की स्थिति में सुधार का उन्होंने स्वागत किया और कहा कि यह प्रत्येक भारतीय के लिए गर्व की बात है पर मुश्किल यह है कि देश के बाहर की वाहवाही को स्वीकार करने वाले हम लोग देश के अंदर से होने वाली आलोचना को खारिज कर देते हैं। सिन्हा मंगलवार को अहमदाबाद में पत्रकारों से बात कर रहे थे।
मेरे सुझावों पर अमल करने से बदल सकते हैं हालात : सिन्हा
यशवंत सिन्हा ने दावा किया कि अगर मोदी सरकार उनके सुझावों पर अमल करे तो अगले बजट से पहले ही अर्थव्यवस्था में सुधार शुरू हो जाएगा। सिन्हा ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी से अर्थव्यवस्था को आघात लगा है। नोटबंदी के चलते 20 लाख लोग रोजगार गंवा चुके हैं। अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर नई गणना के अनुसार गिरकर 5.7 प्रतिशत (पुरानी गणना के हिसाब से 3.5 प्रतिशत) पर आ गई है जबकि यह संप्रग सरकार की अंतिम तिमाही के दौरान नई गणना के लिहाज से 6.5 (पुरानी 4.7)थी। कालाधन को समाप्त करने समेत नोटबंदी का कोई भी घोषित उद्देश्य पूरा नहीं हुआ है। जीएसटी जैसी अच्छी कर प्रणाली को खराब ढंग से लागू करने से नुकसान हुआ है।