--Advertisement--

मुंबई से राजस्थान जा रही बस कंटेनर में घुसी, 4 की मौतें, 20 घायल

सुबह चार बजे हुआ हादसा, सब यात्री सो रहे थे, राजस्थानी समाज में छाया शोक।

Danik Bhaskar | Jun 11, 2018, 01:01 PM IST
बस के ड्राइवर और तीन यात्रियों की हो गई मौत। बस के ड्राइवर और तीन यात्रियों की हो गई मौत।

सूरत। रविवार अल सुबह करीब चार बजे मुंबई-अहमदाबाद नेशनल हाइवे नंबर 48 पर सियालज पाटिया तुलसी होटल के सामने एक अज्ञात वाहन के पीछे कंटेनर तथा उसके पीछे तेज गति से आ रही लग्जरी बस के बीच दुर्घटना हो गई। जिसमें लग्जरी बस चालक सहित चार लोगों की मौत हो गई। जबकि 20 से अधिक लोगों को घायल होने पर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। मुंबई सेंट्रल से राजस्थान जा रही थी बस...

मुंबई सेंट्रल से राजस्थान जा रही बस शनिवार शाम को मुंबई से निकली थी। बस कोसंबा गांव के नेशनल हाइवे से गुजर रही थी। उसी समय बस चालक द्वारा संतुलन खो देने से कन्टेनर के पिछले हिस्से से टकरा गई। हादसे के समय बस में सभी यात्री सो रहे थे। अचानक जोरदार टक्कर होने से सभी जाग गए। टक्कर से बस के सामने का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। बस के अगले हिस्से में सो रहे अधिकांश यात्रियों को गंभीर चोटें आई हैं। जबकि दशरथसिंह बारोट और चंपालाल जाट की गंभीर चोट लगने से घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

पुलिस ने शुरू किया बचाव कार्य

घटना की जानकारी होते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर राहत कार्य में जुट गई। सभी घायलों को इलाज के लिए 108 एंबुलेंस के द्वारा कामरेज और सूरत के अस्पतालों में ले जाया गया। जबकि बस के चालक कुंवरभाई जाट और एक अन्य यात्री राहुलभाई पुरोहित की इलाज के दौरान स्मीमेर अस्पताल में मौत हो गई। बस में सवार 20 से अधिक यात्रियों को सामान्य से गंभीर चोटें आई हैं। दुर्घटना में घायल और मौत के शिकार हुए अधिकांश यात्री राजस्थान के होने की बात फैलते ही कोसंबा स्थित पोस्टमार्टम रूम पर बड़ी संख्या में राजस्थानी समाज के लोग उमड़ पड़े थे। प्राइवेट एम्बुलेंस की भी मदद ली गई। घटना की जानकारी होते ही चार 108 एम्बुलेंस पहुंच गई। परंतु घायलों की संख्या 20 से अधिक होने के कारण कोसंबा से पीरामल ग्लास और बिरला कंपनी की एम्बुलेंस की मदद मांगने पर कंपनी ने तत्काल भेज दी। जिसके द्वारा घायलों को अस्पताल ले जाया गया।

कंटेनर से टक्कर के बाद बस का आगे का पूरा हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। कंटेनर से टक्कर के बाद बस का आगे का पूरा हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया।
बस में नहीं था स्पीड गवर्नर । बस में नहीं था स्पीड गवर्नर ।