--Advertisement--

100 करोड़ की संपत्ति छोड़ ये सीए बना जैन मुनि, पिता करते हैं हीरे का कारोबार

मोक्षेश का परिवार मूलत: उत्तर गुजरात के डीसा का रहने वाला है।

Danik Bhaskar | Apr 22, 2018, 02:24 AM IST
मोक्षेस मुनि करूणाप्रेम विजय जी नाम मिला है। मोक्षेस मुनि करूणाप्रेम विजय जी नाम मिला है।

अहमदाबाद. हीरा कारोबारी परिवार के बेटे मोक्षेश शेठ (24) ने 100 करोड़ की संपत्ति और सीए का पेशा छोड़ कर शुक्रवार को दीक्षा ले ली है। दीक्षा के बाद उन्हें मुनि करूणा प्रेमविजय जी नाम मिला है। जयघोष सूरिश्वर जी महाराज के शिष्य मुनि जिन प्रेम विजयजी महाराज के सानिध्य में तपोवन संस्कारपीठ-अमियापुर में मोक्षेश की दीक्षा हुई।

- दीक्षा परिसर को 4000 दीपक से सजाया गया था। इस दौरान विविध पूजा के लिए एक करोड़ रुपए से अधिक की बोली लगाई गई ।

- उनका अगला चतुर्मास वडोदरा में होगा। मोक्षेश का परिवार मूलत: उत्तर गुजरात के डीसा का रहने वाला है। हाल निवास मुंबई में है, जहां उनके पिता का हीरों का कारोबार है।

सीए मोक्षेस पूरी ड्रेस में। सीए मोक्षेस पूरी ड्रेस में।
दीक्षा लेने के बाद मोक्षेस(बाएं) दीक्षा लेने के बाद मोक्षेस(बाएं)
साधु बनने के बाद सीए मोक्षेस। साधु बनने के बाद सीए मोक्षेस।