--Advertisement--

कपड़े की दुकान में आग: चौथी मंजिल से कूदी 4 महिलाएं, एक का टूटा पैर

सात दमकल और करीब 20 फायर ऑफिसरों की मदद से 1.15 घंटे में आग पर काबू पाया गया

Dainik Bhaskar

May 09, 2018, 02:31 PM IST
15 मीटर ऊपर तक देखी गई आग की लपटें। 15 मीटर ऊपर तक देखी गई आग की लपटें।

सूरत। शहर के झापा बाजार स्थित ग्राउंड पर प्लस चार मंजिला इमारत में मंगलवार शाम करीब चार बजे शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। आग लगते ही दुकान के पास अफरा-तफरी मच गई। इस दौरान चौथी मंजिल से 4 महिलाओं ने छलांग लगा दी, जिससे एक के पांव में फ्रेक्चर आ गया। शेष 3 महिलाओं को सामान्य चोटें आई हैं।

आग की लपटें 15 मीटर ऊपर तक दिखीं...

लोगों ने दमकल विभाग को आग की जानकारी दी। जानकारी मिलते ही नवसारी बाजार, घांची शेरी, मान दरवाजा और मुख्यालय से करीब दमकल की सात गड़ियां व 20 फायरकर्मी झापा बाजार पहुंच गए। आग इतनी भयानक थी कि आग की लपटें लगभग 15 मीटर तक उठ रही थीं, जबकि धुआं चौथी मंजिल के ऊपर उठता दिखाई दिया। वहीं दमकल की गाड़ियों ने लगभग 1 घंटे 15 मिनट की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। गनीमत यह रही कि आग की चपेट में कोई नहीं आया, जिससे किसी की जनहानि नहीं हुई।

क्या देखा प्रत्यक्षदर्शियों ने

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि आग लगते ही दूसरे जमील पर स्थित अपने निवास से दुकान मालकिन ने छलांग लगा कर जान बचाने का प्रयास किया, जिसकी वजह से उसका एक पैर टूट गया। फायर ब्रिगेड से मिली जानकारी के मुताबिक शाम चार बजे के आसपास वाड़ी फलिया के बद्री रोड स्थित अल वर्ल्ड नामक दुकान में शॉर्ट सर्किट से आग लग गई। दुकान में महिलाओं के कपड़ों के साथ कटलरी के सामान थे। दुकान फातिमा बेन नामक महिला के नाम पर रजिस्टर्ड है। अाग लगने के कुछ ही देर में आग ने पूरी दुकान को चपेट में ले लिया। तेजी से फैल रही आग को देखते हुए वहां स्थित दूसरे दुकानदार दुकान बंदकर भाग खड़े हुए। तभी किसी ने फोन कर दमकल विभाग को आग की जानकारी दी।

महिला दुकानदार ने जान बचाने के लिए लगाई छलांग

आग लगने की वजह से लिफ्ट के कॉरीडोर में धुंआ फैल गया। लपटे लिफ्ट के कॉरीडोर के रास्ते ऊपर के मंजिलों तक पहुंच गई, जिससे लिफ्ट के लकड़ी के बने दरवाजों में आग लग गई। आग तेजी से ऊपर की तरफ पहुंच गई। आग को देखते ही वहां रहने वाली फातिमा बेन बुरहानी ने पास स्थित इमारत पर छलांग लगा दिया, जिससे वह घायल हो गई। उसे स्थानीय लोगों द्वारा पास के एक अस्पताल में पहुंचाया गया। डाक्टरों ने बताया कि उनके पैर में माइनर फैक्चर की आशंका है।

...तो आग दूसरे घरों तक पहुंच जाती: फायर ब्रिगेड

आग लगते ही फायर ब्रिगेड को सूचना दे दी गई, जिससे फायर कर्मियों ने जल्द कार्रवाई शुरू कर दी। करीब आधे घंटे में आग पर काबू पा लिया गया। करीब 45 मिनट तक कूलिंग प्रोसेस चला। आग जिस तेजी से फैल रही थी उसको देखते हुए आस-पास के पुराने लकड़ी से बने मकानों तक आग के पहुंचने का खतरा था। फायर आफिसर राजेंद्र राजपूत ने बताया कि अगर आग पर समय पर काबू नहीं पाया जाता तो हादसा बड़ा हो सकता था। यहां अधिकांश मकान 30 से 50 साल पुराने हैं, जिनमें ज्यादा से ज्यादा काम लकड़ियों से किया गया है।

फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची घटनास्थल पर। फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची घटनास्थल पर।
अाग बुझाती फायर ब्रिगेड की टीम। अाग बुझाती फायर ब्रिगेड की टीम।
X
15 मीटर ऊपर तक देखी गई आग की लपटें।15 मीटर ऊपर तक देखी गई आग की लपटें।
फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची घटनास्थल पर।फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची घटनास्थल पर।
अाग बुझाती फायर ब्रिगेड की टीम।अाग बुझाती फायर ब्रिगेड की टीम।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..