--Advertisement--

जल संकट: जिस नदी में कभी नावें चला करती थीं, वहां अब बन गया है क्रिकेट का मैदान

जो पानी बर्बाद करते हैं उनसे कहो- जल है तो जीवन है।

Danik Bhaskar | Apr 09, 2018, 04:27 AM IST
200 एमसीएम कोटे से दे रहे पानी। 200 एमसीएम कोटे से दे रहे पानी।

सूरत. यह दृश्य वियर कम कॉजवे के पास का है। तापी नदी में यहां कभी नावें चला करती थीं, लेकिन अब यहां क्रिकेट का मैदान बन गया है। बच्चे यहां खेला करते हैं। पानी की कमी से नदी का अधिकांश हिस्सा सूखकर मैदान में तब्दील हो गया है।

डैम से नहीं छोड़ेंगे ज्यादा पानी
सिंचाई विभाग ने कहा कि नदी में उकाई डैम से ज्यादा पानी नहीं छोड़ सकते, क्योंकि प्राथमिकता पीने का पानी मुहैया कराना है। कॉजवे का 5 मी. जल स्तर बरकरार रखने के लिए पानी देंगे।

200 एमसीएम कोटे से दे रहे पानी
सिंचाई विभाग का कहना है कि मनपा के जून तक के 200 एमसीएम कोटे में से मार्च तक 30 एमसीएम पानी दिया जा चुका है। अब बचे कोटे से ही काम चलाना पड़ेगा।