विज्ञापन

खांसी के इलाज के लिए चमगादड़ों का कर रहे शिकार, खुलेआम इस तरह मार गिराते हैं इन्हें / खांसी के इलाज के लिए चमगादड़ों का कर रहे शिकार, खुलेआम इस तरह मार गिराते हैं इन्हें

शाहिद खान पठान

Jun 04, 2018, 07:27 AM IST

चमगादड़ों का खांसी के उपचार से जुड़ा कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है।

‘दवा’ के लिए पाबंदी के बावजूद चमगादड़ों का मार रहे ‘दवा’ के लिए पाबंदी के बावजूद चमगादड़ों का मार रहे
  • comment

कोटा (उदयपुर). चमगादड़ों से फैलने वाला निपाह वायरस इन दिनों सर्वाधिक चर्चा में है। उदयपुर के कोटड़ा में पाबंदी के बावजूद चमगादड़ों का शिकार किया जा रहा है। हालांकि, इसका निपाह से कोई ताल्लुक नहीं है। यहां लाइलाज खांसी या दमे के इलाज के लिए चमगादड़ों को मारकर दवाई के रूप में उपयोग किया जाता है। यह शिकार भी रविवार को ही होता है और यह दवा भी रविवार को ही ली जाती है। हालांकि,

चमगादड़ों का खांसी के उपचार से जुड़ा कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है।

सिर्फ स्थानीय मान्यताओं के चलते यहां हर रविवार चमगादड़ों की शामत आ जाती है। इसके लिए बाकायदा शिकार भी होते हैं, जो बंदूक या तीर-कमान से पेड़ पर लटके चमगादड़ों को मार गिराते हैं।

चमगादड़ चमगादड़
  • comment
X
‘दवा’ के लिए पाबंदी के बावजूद चमगादड़ों का मार रहे‘दवा’ के लिए पाबंदी के बावजूद चमगादड़ों का मार रहे
चमगादड़चमगादड़
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन