--Advertisement--

5000 बोट लंगर डालकर हुईं एक जगह खड़े, 12 हजार की है छमता हो गईं 4 गुना खड़ी

यमन के पास गुजरात का एक जहाज डूबा, 7 से संपर्क टूटा, 5 नाविकों को बचाया

Danik Bhaskar | May 25, 2018, 03:07 AM IST
मौजूद बोट्स मौजूद बोट्स

सलाया(गुजरात). समुद्र में उठे मेकुनु चक्रवात में फंस कर सलाया-गुजरात का एक जहाज डूब गया। शारजहां से यमन जा रहे 450 टन की क्षमता वाले इस जहाज पर नौ नाविक सवार थे। इनमें से पांच को बचा लिया गया, जबकि चार लापता हैं। इनकी तलाश जारी है।

आता-ए-ख्वाजा नामक ये जहाज-सलाया गुजरात का था। यमन के सिकोतेर बंदरगाह पर जा रहा था। शारजहां से जनरल कार्गो के साथ पांच मई 2018 को यमन के लिए रवाना हुआ था। 23 मई की रात बारिश-चक्रवात की चपेट में आकर माल -सामान सहित समुद्र में डूब गया।

क्रेन से की बोट की पार्किंग: पोरबंदर

- ये है पोरबंदर के फिशरीज हार्बर का पहली बार 100 मीटर की ऊंचाई से लिया गया दृश्य।

- यहां इन दिनों 1200 की क्षमता के मुकाबले 5000 बोट को पार्क करवाना पड़ा है।

- पार्किंग क्षेत्र का दायरा 3 किमी तक है। मेकुनु चक्रवात की चेतावनी के कारण यह नौबत पैदा हुई है। इसके चलते संवेदनशील श्रेणी के इस क्षेत्र में बोट को पार्क करवाया गया है।

- पोरबंदर बंदरगाह हर समय व्यस्त रहता है। समुद्र से किनारे आईं बोट को क्रेन की मदद लेकर पार्क करवाया गया है।

खतरा भांप पोरबंदर में 1200 की जगह में 5000 बोट ने डाला लंगर खतरा भांप पोरबंदर में 1200 की जगह में 5000 बोट ने डाला लंगर