--Advertisement--

स्टेज के पीछे से लहूलुहान हालत में निकला ये शख्स, 500 लोगों के सामने चाकू घोंपकर की हत्या लेकिन किसी ने नहीं देखा

स्टेज के पीछे से लहूलुहान हालत में निकला ये शख्स, 500 लोगों के सामने चाकू घोंपकर की हत्या लेकिन किसी ने नहीं देखा।

Danik Bhaskar | May 25, 2018, 02:25 AM IST
लोगों का कहना है कि तिलक स्टेज के पीछे से लहूलुहान होकर सामने आया था। उसे देखकर पार्टी में हड़कंप मच गई थी। लोगों का कहना है कि तिलक स्टेज के पीछे से लहूलुहान होकर सामने आया था। उसे देखकर पार्टी में हड़कंप मच गई थी।

सूरत. शहर में रात एक बर्थडे पार्टी में डीजे बजाने वाले एक हेल्पर तिलक मानकर (25) की छाती, पेट और कमर पर चाकू मारकर हत्या कर दी गई। हैरान करने वाली बात यह है कि पार्टी में करीब 500 लोग मौजूद थे, लेकिन किसी ने भी हत्या होते हुए नहीं देखी। हत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। तिलक मानकर मूल रूप से मध्यप्रदेश के खंडवा जिले का रहने वाला था। वह अपने माता-पिता और छोटे भाई दीपक मानकर के साथ उधना के हरिनगर-3 में रहता था। माता-पिता मजदूरी करते हैं। डीजे में काम करते थे, जिससे परिवार को आर्थिक सहारा मिलता था।

तिलक की हत्या से परिवार गहरे सदमे में है। सिविल अस्पताल में हुए पोस्टमॉर्टम में कहा गया है कि तेज धार वाले हथियार से तिलक की छाती, पेट और कमर पर वार किए गए। पुलिस लोगों का बयान ले रही है। हत्या के संदेह में एक युवक को वडोदरा से हिरासत में ले लिया है।

रास्ते में तिलक ने तोड़ा दम

- गणपत मोहल्ला में संतोष नाम के युवक का जन्मदिन की पार्टी चल रही थी, जिसमें करीब 500 से अधिक लोग मौजूद थे।

- यहां समाधान बागले नाम के डीजे वाले को बुलाया गया था।

- रात करीब 10 बजे डीजे का हेल्पर तिलक मानकर लहूलुहान हालत में स्टेज के पीछे से निकला था।

- उसे स्कूटी से अस्पताल ले गए पर रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।

किसी युवक से हुई थी बहस

- बर्थडे पार्टी में युवक की हत्या के कारण भगदड़ मच गई थी। पार्टी में उपस्थित किसी को भी यह नहीं मालूम कि तिलक की हत्या किसने की।

- बताया जा रहा है कि कुछ लोगों के डीजे की लाइट बंद होने और अच्छा गाना नहीं बजाने को लेकर किसी से तिलक की बहस हो रही थी।

12 लोगों के लिए गए बयान

- तिलक की हत्या के मामले में पुलिस 12 लोगों के बयान लिए हैं।

- लोगों ने बताया कि किसी ने भी हमलावर को नहीं देखा है। स्टेज के पीछे से तिलक जख्मी हालत में सामने आया था, बस इतना ही पता है।

- पुलिस ने तीन वीडियो की जांच की है, पर कुछ नहीं मिला। एक युवक को हिरासत में लिया है, लेकिन आधिकारिक रूप से पुलिस कुछ नहीं कह रही है।

स्टेज के पीछे से लहूलुहान अाया था

- डीजे के मालिक समाधान बागले ने बताया कि तिलक हमारे डीजे में हेल्पर का काम कर रहा था।

- लाइट सेट करने का काम करने के बाद वह स्टेज के पीछे बैठ गया था, जहां काफी अंधेरा था।

- कुछ देर में वह स्टेज के पीछे से लहूलुहान हालत में आया। पार्टी में मौजूद लोग भी नहीं समझ पा रहे थे कि तिलक पर हमला किसने किया? फिर हम उसे अस्पताल ले गए थे, लेकिन उसकी मौत हो गई।

सोनू ने फोनकर बताया तो मुझे इस बारे में पता चला

तिलक भैया डीजे में हेल्पर का काम करते थे। हत्या होने के पहले 15 दिन तक वह काम पर नहीं गए थे। बुधवार शाम करीब 9:30 बजे वह घर से निकले थे। उनके साथ सोनू और जितिन नाम के दो ऑपरेटर भी थे। डीजे चालू होने के थोड़ी देर बाद सोनू और जितिन अाकाश नाम के एक साथी को वहां छोड़कर फ्रेश होने अपने घर चले गए थे। पार्टी में अाकाश और मेरे भैया तिलक ही डीजे चला रहे थे।

करीब 10 बजे अकाश ने सोनू को फोन से बताया कि पार्टी में झगड़ा हो गया है। सोनू ने मुझे फोन कर यह बात बताई थी। मैं रात करीब 10:15 बजे वहां पहुंचा। वहां अकाश मेरे भाई को गोद में लेकर रो रहा है। मैंने तुरंत 108 एंबुलेंस को फोन किया, लेकिन 15 मिनट तक कोई आया ही नहीं तो दो लोग स्कूटी से उसे लेकर सिविल अस्पताल गए। मैं कुछ देरी से पहुंचा।

यहीं हुई तिलक की हत्या यहीं हुई तिलक की हत्या

Related Stories