Hindi News »Gujarat »Surat» People From 15 Villages Come Together For Protection Of Land

जमीन की सुरक्षा के लिए एक साथ आए 15 गांव के लोग, समुद्र का रुख मोड़ने की कर रहे तैयारी

भावनगर जिले की तलाजा तहसील, यहां पर ग्रामीणों ने बैलगाड़ी, ट्रैक्टर और जेसीबी तक लगा दिए

Bhaskar News | Last Modified - Apr 08, 2018, 05:03 AM IST

  • जमीन की सुरक्षा के लिए एक साथ आए 15 गांव के लोग, समुद्र का रुख मोड़ने की कर रहे तैयारी
    +1और स्लाइड देखें
    1985 में शुरू हुई थी योजना

    भावनगर.गुजरात में समुद्र तटीय क्षेत्र से लगी भूमि को खारेपन से बचाने के लिए 15 गांव के लोग स्वयं ही जुट पड़े हैं। भूमि को क्षार से बचाने के लिए यहां प्रत्येक ग्रामीण श्रमदान कर योगदान दे रहा है। कोई फावड़ा चला रहा है तो किसी ने बैलगाड़ी, ट्रैक्टर और जेसीबी लगा दिए हैं। खास बात ये है कि इसमें महिलाएं और बच्चे भी अपना योगदान दे रहे हैं।

    महिलाएं भी फावड़ा चला रही हैं और तगाड़ी से मिट्‌टी ढो रही हैं, ताकि कार्य जल्द से जल्द पूरा हो जाए। यह कवायद एक महीने तक चलने का अनुमान है। ये मामला भूमि अधिग्रहण को लेकर सुर्खियों में रहे भावनगर जिले की तलाजा तहसील के मेथला और समीपवर्ती गांव का है।

    81 करोड़ रु. की लागत का अनुमान

    सिंचाई विभाग का कहना है कि मेड़ बनाने की योजना के लिए 545 हेक्टेयर सरकारी भूमि है, जबकि 250 हेक्टेयर निजी भूमि है। कुल 1576 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण करनी होगी। योजना में करीब 81 करोड़ रु. की लागत का अनुमान है।

    महीनेभर तक चलता रहेगा काम

    मेथला गांव के सरपंच घनश्यामभाई बारैया का कहना है कि हम काम में अब कोई अवरोध नहीं चाहते। बावजूद इसके कोई सुनवाई नहीं होती। ऐसे में कुछ आर्थिक दानदाताओं ने हाथ बढ़ाया जिससे हमारा उत्साह बढ़ा। महीने भर यह काम चलेगा।

    1985 में शुरू हुई थी योजना

    सिचाई विभाग के अधिकारियों के मुताबिक मेथला में समुद्री पानी की पहुंच और खारेपन को रोकने के लिए साल 1985 में मेड़ बनाने की योजना पर काम शुरू हुआ था। लेकिन अगले ही साल कुछ ग्रामीणों के विरोध करने पर यह ठंडे बस्ते में चला गया। तब से किसी न किसी कारण से ये योजना रफ्तार नहीं पकड़ पाई। योजना के आकार को भी सीमित किया गया ताकि विरोध न बढ़े। वहीं अब किसानों ने ये पहल स्वयं प्रारंभ की है।

  • जमीन की सुरक्षा के लिए एक साथ आए 15 गांव के लोग, समुद्र का रुख मोड़ने की कर रहे तैयारी
    +1और स्लाइड देखें
    इस योजना को पूरा करने के लिए महिलाएं और बच्चे भी हाथ बटा रहे हैं।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×