सूरत

--Advertisement--

बच्ची की आंखों के सामने ही उसकी मां को मार डाला, कहा- साथी ने भी दुष्कर्म किया, बाद में बच्ची की भी हत्या की

कहा- दुष्कर्म के बाद महिला बना रही थी शादी का दबाव तो उसकी भी हत्या कर दी

Danik Bhaskar

Apr 22, 2018, 08:39 AM IST
डेमो फोटो। डेमो फोटो।

सूरत. सूरत में बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या के आरोपी हरसहाय गुर्जर को शनिवार को पुलिस राजस्थान से सूरत ले आई। उसके एक साथी को भी हिरासत में लिया गया है, पर पुलिस फिलहाल उसका नाम नहीं बता रही है। हालांकि सूत्र उसका नाम हरीओम बता रही है। उधर, इस मामले में नया खुलासा हुआ है। महिला की हत्या के बाद बच्ची को घर ले आया था...

पुलिस के अनुसार हर्ष के साथी ने महिला और उसकी 11 साल की बेटी को दिल्ली के मुकेश कुमार से 35 हजार रुपए में खरीदा और उन्हें जयपुर से सूरत ले आया। हर्ष उस महिला को खाना-पीना देता था और उसके साथ दुष्कर्म करता था। बाद में महिला रुपए मांगने लगी। रुपए नहीं देने पर उसने साथ रखने और शादी करने का दबाव बनाया। इससे हरसहाय परेशान हो गया। वहीं, महिला को लेकर हर्ष और उसकी पत्नी के बीच भी आए दिन लड़ाई होती थी। इसलिए हरसहाय ने बच्ची की आंखों के सामने ही 30 मार्च को महिला की गला घोंटकर हत्या कर दी। साथ ही लाश एक कार में रखकर जीयाव के पास झाड़ियों में फेंक दिया। उसके बाद बच्ची को अपने घर ले आया।

एक से 5 अप्रैल तक हरसहाय ने साथी के साथ मिलकर बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। इस बीच बच्ची को लकड़ी और हाथों से मारा। फिर 5 अप्रैल की रात दोनों बच्ची को बिल्डिंग की छत पर ले गए और वहां पर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद हरसहाय ने बच्ची के हाथ और बाल पकड़ लिए। वहीं, उसके साथी ने गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। फिर परिचित की कार में बच्ची का शव फेंक दिया।

साथी की नहीं हुई शादी, महिला व बच्ची को वही खरीदकर लाया

हरसहाय भेस्तान में पत्नी रमादेवी और बेटा प्रियान्शु के साथ रहता था। उसका बड़ा बेटा दिपान्सु राजस्थान में रहता है। हरसहाय मार्बल फिटिंग का ठेकेदार है। उसके साथ काम करने वाले आरोपी की शादी नहीं हुई है। उसके राजस्थान में एक महिला के साथ संबंध थे। साथी ही महिला और उसकी बेटी को राजस्थान से लाया। हरसहाय व उसने दोनों को सूरत के कामरेज के पास बिल्डिंग में रखा। कुछ दिनों बाद उन्हें मानसरोवर फ्लैट में ले आया। फ्लैट में मां-बेटी करीब ढाई महीने रही। बच्ची ने हर्ष के बड़े भाई को उसकी मां की हत्या किए जाने की जानकारी दे दी थी। बच्ची बिल्डिंग के अन्य लोगों को भी बता रही थी, जिससे आरोपी डर गए। इसलिए बच्ची के साथ दरिंदगी की।

Click to listen..