--Advertisement--

श्मशान घाट में गूंजा म्यूजिक, चिता के पास लोगों ने किया डांस, 80 साल के बुजुर्ग की यही थी अंतिम इच्छा

सूरत के जहांगीरपुरा इलाके की श्रीधर सोसायटी के निवासी 80 वर्षीय भगवती भाई पटेल का तीन दिन पहले निधन हुआ था।

Danik Bhaskar | Jun 27, 2018, 06:53 PM IST

सूरत, गुजरात। ओशो के एक भक्त के निधन के बाद उनके परिचितों और फैमिली ने श्मशान घाट पर जश्न मनाया। म्यूजिक के बीच डांस हुआ। दरअसल, यह मृतक की अंतिम इच्छा थी। मृतक के अंगों का भी दान किया गया।

- सूरत के जहांगीरपुरा इलाके की श्रीधर सोसायटी के निवासी 80 वर्षीय भगवती भाई पटेल की अंतिम इच्छा थी कि उनकी मृत्यु पर कोई शोक न मनाए। परिवार वाले उन्हें खुशी-खुशी विदा करें।

- मृतक के दामाद दीपक भाई ने बताया, उनके ससुर रजनीश ओशो की विचारधारा के थे। तीन दिन पहले हार्टअटैक से उनका निधन हो गया था।
- भगवती भाई के बेटे अमेरिका में रहते हैं। वे भी ओशो को फॉलो करते हैं। भगवती भाई ने अपने अंगों का भी दान किया था। वो स्वतंत्रता संग्राम सेनानी थे।

शव के पास नाचते गाते लोग। शव के पास नाचते गाते लोग।
ओशो के अनुयायी थे मृतक भगवती भाई पटेल। ओशो के अनुयायी थे मृतक भगवती भाई पटेल।
उनकी अंतिम इच्छा थी कि मेरे शव के पास नाच-गाकर खुशी मनाएं। उनकी अंतिम इच्छा थी कि मेरे शव के पास नाच-गाकर खुशी मनाएं।