--Advertisement--

रेप विथ मर्डर: मासूम का संभालने के मामले में की गई हत्या

हत्या का आरोपी राजस्थान के गंगापुर का हरसहाय, बच्ची को 7 दिन घर में बंद कर देता रहा यातनाएं फिर मार डाला।

Danik Bhaskar | Apr 21, 2018, 01:07 PM IST
हत्या का आरोपी हरसहाय गुर्जर। हत्या का आरोपी हरसहाय गुर्जर।

सूरत। शहर के पांडेसरा इलाके में दुष्कर्म और हत्या के बाद 6 अप्रैल को मिले 11 साल की बच्ची के शव के मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। उसने राजस्थान के सवाई माधोपर जिले के गंगापुर से दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिस कार से शव को फेंका गया, उसे भी बरामद कर लिया गया है। कार के कारण ही आरोपी पकड़े गए…

सूरत-अहमदाबाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर काले रंग की एक कार को जब्त किया। इसी कार का इस्तेमाल बच्ची का शव फेंकने में किया गया। इस कार के कारण ही पुलिस आरोपियों तक पहुंच पाई। मामले में हरसहाय गुर्जर को सबसे पहले गिरफ्तार किया गया। इसके बाद एक और आरोपी की गिरफ्तारी हुई। घटना का मास्टरमाइंड बताया जा रहा हरसहाय मार्बल लगाने के काम का ठेकेदार है। उसने 6 महीने पहले एक बच्ची और उसकी मां को राजस्थान से सूरत लाया। उसने सूरत के कामरेज के पास दोनों को रखा। वह हमेशा उस महिला से मिलने जाता था। हरसहाय की पत्नी को पता चल गया कि उसके पति का किसी दूसरी महिला से संबंध है। इसको लेकर पति-पत्नी के बीच झगड़ा होने लगा। वहीं, राजस्थान से आई महिला बार-बार हरसहाय से रुपए मांगती थी।

महिला को गायब करवा दिया

पुलिस के अनुसार रुपए मांगने और महिला को लेकर आए दिन पत्नी से लड़ाई होने से हरसहाय तंग आ गया और उसने महिला को कहीं गायब करवा दिया। उसके बाद उस बच्ची को अपने घर ले आया। फिर हरसहाय और उसकी पत्नी में इस बच्ची को लेकर विवाद शुरू हो गया। करीब एक हफ्ते तक बच्ची को घर में बंधक बनाकर रखा गया। उसे यातनाएं दी गईं। दुष्कर्म के बाद आरोपी हरसहाय ने बच्ची का गला घोंटकर हत्या कर दी और लाश को फेंक दिया। चार दिन बाद वह पत्नी और बेटे के साथ राजस्थान के अपने गांव कुनकटा खुर्द चला गया। पुलिस ने उसे वहीं से पकड़ा।

बच्ची के साथ महिला का भी डीएनए सैंपल जांच के लिए भेजा गया

बच्ची का शव मिलने के तीन दिन बाद 9 अप्रैल को पांडेसरा में एक महिला की लाश मिली थी। उसकी भी हत्या गला घोंटकर की गई थी। पुलिस के अनुसार यह महिला उस बच्ची की मां हो सकती है। पुष्टि के लिए बच्ची और महिला के डीएनए सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं।

केस की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी: गृह राज्य मंत्री

गृह राज्य मंत्री प्रदीपसिंह जडेजा ने बताया कि आरोपियों को गुजरात लाया जा रहा है। मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी। इसके लिए सरकार स्पेशल पब्लिक प्रोसिक्यूटर नियुक्त करेगी। 9 अप्रैल को बच्ची के शव से कुछ किमी दूर एक महिला का शव भी मिला था। यह उस बच्ची की मां का हो सकता है।

आरोपी इसी घर में रहता था। आरोपी इसी घर में रहता था।
आरोपी घर को इस तरह से लॉक कर चला गया था। आरोपी घर को इस तरह से लॉक कर चला गया था।
कामरेज में टाइल्स फिट करने का काम चल रहा था। कामरेज में टाइल्स फिट करने का काम चल रहा था।