--Advertisement--

सूरत हाईप्रोफाइल मर्डर: पुलिस को खूब छका रहा है आरोपी संजय

पुलिस ने बीना का मोबाइल तलाशने के लिए पूरा हाइवे खंगाल डाला, पर माेबाइल नहीं मिला।

Danik Bhaskar | May 11, 2018, 01:37 PM IST
मृतक बीना और हत्या का आरोपी संजय। मृतक बीना और हत्या का आरोपी संजय।

सूरत। हाईप्रोफाइल मर्डर केस में डॉक्टर की पत्नी बीना की हत्या का आरोपी संजय बार-बार बयान बदलकर पुलिस को छका रहा है। पहले जब उसने कहा था कि बीना का मोबाइल उसने हाइवे पर फेंक दिया है, तो पुलिस ने पूरा हाइवे खंगाल दिया। अब आरोपी का कहना है कि उसने वायर और मोबाइल तापी नदी में फेंक दिया है। रोज नए खुलासे…

वराछा में लम्बे हनुमान रोड पर पंचरत्न अपार्टमेंट में रहने वाले आयुर्वेदिक डॉक्टर नीलेश वीराणी की 36 वर्षीय पत्नी बीना की लाश 28 अप्रैल को सापुतारा के पास मिली थी। हत्या किसी और ने नहीं, बल्कि डॉ. वीराणी के बचपन के दोस्त संजय डोबरिया ने ही की थी। संजय और नीलेश की पत्नी बीना के बीच अवैध संबंध थे। दोनों एक-दूसरे को खूब चाहते थे। हत्या के पहले दोनों ने 8 घंटे साथ-साथ गुजारे थे। इस हत्या में संजय के ड्राइवर की भी भूमिका थी। सजय की ट्रांसफर बनाने की फैक्टरी है। संजय बीना की ब्लेकमेलिंग से परेशान हो गया था, वह बार-बार शादी के लिए दबाव डाल रही थी। आखिर संजय ने 28 अप्रैल की सुबह उसकी हत्या कर दी।

बीना मां के साथ सब्जी खरीदने गई, वहीं से लापता

पंचरत्न टॉवर में रहने वाले डॉ. नीलेश भाई वीराणी की 36 वर्षीय पत्नी बीना 27 अप्रैल 2018 को अपनी मां के साथ सब्जी लेने निकली थी। सब्जी खरीदने के बाद उसने मां से कहा कि कुछ काम है, उस पूरा करके घर आ जाऊंगी। आप घर चली जाओ। उसके बाद वह रहस्यमय तरीके से लापता हो गई। अमरोली के पुलिस थाने में बीना के भाई ने उनके गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाई थी।

पुलिस रिमांड में दो आराेपी

28 अप्रैल 2018 को सुबह 10.30 बजे वघई से सापुतारा जाने वाले रास्ते पर जंगल में फंडा फाटक के पास नाले में एक महिला की लाश मिली, जिसमें महिला ने टीशर्ट और केप्री पहन रखा था। 29 को उस लाश की पहचान हो पाई, जिसे डॉक्टर नीलेश वीराणी की पत्नी बताया गया। इस मामले में पुलिस ने बीना के प्रेमी संजय डोबरिया और उसके ड्राइवर अब्दुल रज्जाक शेख को अरेस्ट किया है।

हत्या के पहले 8 घंटे तक साथ में थे संजय-बीना

संजय की लसकाना में ट्रांसफार्मर की फैक्टरी है। 28 की सुबह संजय ने वायर से बीना का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इस दौरान ड्राइवर ने बीना के पैर पकड़ रखे थे। हत्या के पहले दोनों 8 घंटे तक फैक्टरी में ही थे। इस दौरान दोनों से शारीरिक संबंध भी बनाए। इसके बाद दोनों में झगड़ा भी हुआ। आखिर झगड़ा किस मुद्दे पर हुआ, इस पर संजय का कहना है कि वह अपने पति से तलाक लेकर मेरे साथ रहना चाहती थी। मैं शादीशुदा हूं, ऐसा नहीं कर सकता था। इसलिए मैंने उसकी हत्या कर दी। इसके अलावा मैं उसकी ब्लेकमेलिंग से परेशान हो गया था।

डॉ. बीना की फाइल तस्वीर। डॉ. बीना की फाइल तस्वीर।

Related Stories