--Advertisement--

मानसिक रूप से बीमार बेटे ने बाप को मौत के घाट उतारा

उस वक्त घर पर केवल बाप-बेटे ही थे, मृतक की पत्नी किसी काम से बाहर थी, आरोपी की पत्नी बेटी के साथ मायके में।

Danik Bhaskar | May 25, 2018, 02:02 PM IST
मानसिक रूप से बीमार बेटे ने बाप को मौत के घाट उतारा। मानसिक रूप से बीमार बेटे ने बाप को मौत के घाट उतारा।

सूरत। गुरुवार की शाम को सरथाणा इलाके में बीआरटीएस रोड के पास मानसिक रूप से बीमार बेटे ने धारदार हथियार से अपने पिता मौत के घाट उतार दिया। वृद्ध पिता की हत्या करने के बाद भागने के पहले बेटे को पुलिस ने पकड़ लिया। हत्या का कारण पता नहीं चल पाया है। आठ साल की बेटी भी है आरोपी की…

मूल रूप से महाराष्ट्र के जलगांव के रहने वाले और सूरत में दीवालीबानगर सोसायटी में रहकर मोची का काम करने वाले सुखदेव बाजीराव राठे (62) गुरुवार की शाम को जब घर पर थे। तब उनकी पत्नी किसी काम से बाहर गई थी, इस दौरान घर पर पिता-पुत्र ही थे। इस बीच न जाने अचानक क्या हुआ कि मानसिक रूप बीमार बेटा मधुकर राठे (35) ने चमड़ा काटने के धारदार हथियार से पिता पर दो-तीन प्रहार किए। इससे बाजीराव की वहीं मौत हो गई। पिता की हत्या के बाद मधुकर राव वहां से भागने की कोशिश करने लगा, तब पुलिस ने उसे पकड़ लिया। आरोपी की 8 साल की एक बेटी भी है।

मधुकर की आदतों के कारण पत्नी मायके चली गई

मधुकर मानसिक रूप से बीमार था, इसलिए उसकी आदतों से परेशान उसकी पत्नी अपनी बेटी के साथ मायके चली गई थी। पुलिस ने हत्या का कारण जानने के लिए अपराध दर्ज कर लिया है, तहकीकात जारी है।

शव का निरीक्षण करती पुलिस। शव का निरीक्षण करती पुलिस।
तहकीकात करती पुलिस। तहकीकात करती पुलिस।