--Advertisement--

शादी के 25 वें दिन वॉलीबाल के नेशनल प्लेयर की मौत

परिवार वालों ने हॉस्पिटल प्रबंधन पर लगाया लापरवाही का अारोप।

Danik Bhaskar | May 26, 2018, 06:49 PM IST

सूरत। नेशनल वॉलीबाल प्लेयर को बुखार आने पर उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। केवल 3 दिनों के ही इलाज में रोमित बुनकी की मौत हो गई। अभी 30 अप्रैल को ही उसकी शादी हुई थी। रोमित के परिवार वालों ने हॉस्पिटल के स्टाफ पर लापरवाही का आरोपी लगाते हुए मामले को अदालत में चुनौती देने की बात कही है। 25 दिनों में ही बेटी हो गई विधवा…

सगरामपुरा की देसाई शेरी में रहने वाले वॉलीबाल के नेशनल प्लेयर रोमित जयेशकुमार बुनकी (26) की गत 30 अप्रैल को शादी हुई थी। 17 मई को रोमित वॉलीबाल केम्प में गोधरा गया था। जहां उसे बुखार आ गया। पहले तो फेमिली डॉक्टर से सलाह ली गई। उन्होंने वाट्सएप के माध्यम से सलाह दी, परंतु कोई फायदा न होने पर रोमित को महावीर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। वहां तीन दिनों के इलाज के बाद उसकी मौत हो गई। इस पर परिवार वालों ने हॉस्पिटल प्रबंधन पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया। शादी के 25 वें दिन ही रोमित की पत्नी विधवा हो गई।

न्याय के लिए लड़ेंगे

रोमित के ससुर जयेश जरीवाला ने हॉस्पिटल प्रबंधन पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि मेरी बेटी शादी के 25 वें दिन विधवा हो गई। इसके लिए हॉस्पिटल प्रबंधन ही जिम्मेदार है। हम न्याय के लिए नेशनल वॉलीबाल एसोसिएशन की मदद लेंगे। इसके अलावा मृतदेह की फोरेंसिक जांच कराएंगे।

दुल्हन के पांव की मेंहदी का रंग निकल भी नहीं पाया था कि हो गई विधवा। दुल्हन के पांव की मेंहदी का रंग निकल भी नहीं पाया था कि हो गई विधवा।
हॉस्पिटल प्रबंधन की लापरवाही ने मेरी बेटी को विधवा बना दिया। हॉस्पिटल प्रबंधन की लापरवाही ने मेरी बेटी को विधवा बना दिया।
हंसते-खेलते परिवार में छाया मातम। हंसते-खेलते परिवार में छाया मातम।