Hindi News »Gujarat »Surat» Textile Market Slows Down Again

कपड़ा बाजार में फिर छाई मंदी, अब जा रहे हैं सिर्फ 80 ट्रक माल

कपड़ा मार्केट का हाल, 11 माह में सबसे बुरे हालात, पहले जाते थे 400 ट्रक माल।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Jun 13, 2018, 01:12 PM IST

कपड़ा बाजार में फिर छाई मंदी, अब जा रहे हैं सिर्फ 80 ट्रक माल
  • जीएसटी के असर से कपड़ा बाजार सुस्त।
  • अगस्त से मंदी दूर होने की संभावना।

सूरत।जीएसटी लागू होने के बाद कपड़ा कारोबार में फिर गिरावट आने लगी है। अब यहां से रोजाना 400 ट्रकों की बजाए 80 ट्रक माल ही बाहर जा रहा है। व्यापारियों का कहना है कि पिछले 11 महीने में सबसे ज्यादा मंदी है। वैसे तो हर साल जून-जुलाई माह में कपड़ा कारोबार सुस्त रहता है, लेकिन इस बार मार्केट काफी डाउन है।अब केवल 70-80 ट्रक माल ही बाहर जा रहे…

पिछले एक सप्ताह से सूरत से कपड़ा भर कर अन्य राज्यों में 70 से 80 ट्रक ही जा रहे हैं, जो चिंता का विषय है। अधिक मास, शादी का सीजन और रमजान का सीजन खत्म होने से कपड़ा बाजार पर यह असर देखा जा रहा है। बाजार में दिनभर सन्नाटा पसरा रहता है। बाहर से व्यापारी खरीदी के लिए नहीं आ रहे हैं। कपड़ा व्यापारी दिनेश कटारिया ने बताया कि कई दुकानदार 7 बजे से ही दुकान बंद कर घर लौटने लगे हैं।अधिक मास, शादी का सीजन और रमजान का सीजन खत्म होने से कपड़ा बाजार पर यह असर देखा जा रहा है।

अगस्त से तेजी की उम्मीद

जून-जुलाई की भारी मंदी में सारे कपड़ा व्यापारी रक्षाबंधन के त्यौहार की तैयारी करेंगे। जून और जुलाई सुस्त रहेगा। अगस्त के पहले सप्ताह से कपड़े की डिमांड बढ़ने की संभावना है। उसके बाद नवरात्र, दिवाली में तेजी रहेगी। कपड़ा व्यापारी विनोद अग्रवाल ने बताया कि हर साल जून-जुलाई माह में स्थिति खराब रहती है, लेकिन इस साल हालात कुछ ज्यादा ही खराब हैं। पिछले साल की तुलना में व्यापार कम है। इन दिनों 20 फीसदी ही काम हो रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Surat

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×