--Advertisement--

9 साल की मासूम को नशीला पदार्थ पिलाकर 52 वर्षीय मकान मालिक ने किया दुष्कर्म

स्कूल जा रही बच्ची को 10 रुपए व चॉकलेट देकर ले गया, दुष्कर्म के बाद 10 रुपए देकर बोला किसी को बताना मत।

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2018, 01:47 PM IST
21 साल की बेटी का पिता है आरोपी 21 साल की बेटी का पिता है आरोपी

सूरत। पांडेसरा में तीन साल की बच्ची के शव मिलने की घटना को अभी तीन दिन ही हुए थे कि शुक्रवार को चलथाण में नौ साल की बच्ची के साथ 52 वर्षीय मकान मालिक ने दुष्कर्म कर दिया। बच्ची रोते हुए घर पहुंची तो मां के पूछने पर उसने पूरी घटना बताई। आरोपी ने 10 रुपए और चॉकलेट देकर अपने गैराज में बच्ची को नशीला पदार्थ पिलाकर दुष्कर्म किया। बाद में उसे 10 रुपए देकर कहा कि किसी को मत बताना। भीड़ ने किया आरोपी को लहूलुहान...

आक्रोशित भीड़ ने आरोपी की पिटाई कर उसे लहुलुहान कर दिया और उसका गैराज जला दिया। पुलिस ने आरोपी का नजदीकी अस्पताल में इलाज करवाने के बाद गिरफ्तार कर लिया। बच्ची को मेडिकल टेस्ट और इलाज के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती किया है। चलथाण के तुलसी पार्क निवासी 52 वर्षीय राजू बॉडीवाला के गैराज के ऊपर पीड़िता परिवार के साथ किराए पर रहती है। शुक्रवार सुबह सवा 11 बजे 5वीं में पढ़ने वाली बच्ची 150 मीटर दूर स्कूल के लिए निकली थी। नीचे उतरते ही आरोपी राजू ने उसे बुलाया। 10 रुपए और कुछ चॉकलेट देकर गैराज में ले गया। जहां बच्ची को नशीला पदार्थ पिला दिया। बेहोश होने पर दुष्कर्म किया। बच्ची को करीब साढ़े तीन बजे होश आया तो आरोपी ने उसे फिर से 10 रुपए दिए और कहा कि किसी को बताना मत।

आरोपी की सबसे छोटी बेटी है 21 साल की

आरोपी राजू के तीन बच्चे हैं। जिसमें दो लड़के और एक लड़की है। लड़की 21 साल की है। वह मूल हरियाणा निवासी है। लगभग 35 साल से वह यहां रह रहा था। ट्रक बॉडी मेकर गैराज का काम करता है। घटना के समय उसके गैराज में कोई कर्मचारी नहीं था।

रेप हुआ, यह तय करने में पुलिस को 6 घंटे लगे

अस्पताल ने 4 बजे कह दिया दुष्कर्म हुआ है, मामला रात 10 बजे दर्ज किया। बच्ची के मामा ने बताया कि वह घर आई तो रो रही थी। मां ने पूछा तो उसने पूरी बात बताई। मां ने परिजनों और पड़ोसियों को बताया तो आक्रोशित लोगों ने आरोपी की पिटाई कर दी। तब अपराह्न करीब 4 बजे संजीवनी अस्पताल में ही बता दिया गया था कि बच्ची से दुष्कर्म हुआ है। इसके बाद भी 6 घंटे तक पुलिस छेड़छाड़ और दुष्कर्म की धाराओं में फंसी रही। रात 10 बजे जाकर पॉस्को व दुष्कर्म का मामला दर्ज किया।

किसी को नहीं देखना चाहती मां के कंधे से चिपकी बच्ची

आरोपी को बच्ची अंकल कहती थी। अब मां के आंचल से चिपकी मासूम बच्ची किसी भी अंकल को देखना नहीं चाहती। अस्पताल में मां बच्ची को कंधे से लगाए मेडिकल के लिए इधर-उधर घूम रही थी, लेकिन गुमसुम हुई बच्ची किसी से बात नहीं कर रही थी। मां बीच-बीच में बच्ची को थपकियां देती रही।

गुस्साई भीड़ ने जमकर पीटा ( गुस्साई भीड़ ने जमकर पीटा (
The landlord did the bad work  of the innocent
X
21 साल की बेटी का पिता है आरोपी21 साल की बेटी का पिता है आरोपी
गुस्साई भीड़ ने जमकर पीटा (गुस्साई भीड़ ने जमकर पीटा (
The landlord did the bad work  of the innocent
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..