--Advertisement--

परिवार को बंधक बनाकर साढ़े 3 करोड़ की लूट, घटना CCTV में कैद

अर्टिंगा कार लेकर आए 4 शख्सों ने दिया लूट की घटना को अंजाम, इलाके में हड़कम्प।

Danik Bhaskar | Apr 28, 2018, 04:59 PM IST
लूट का सामान ले जाते हुए लुटेर सीसीटीवी में कैद। लूट का सामान ले जाते हुए लुटेर सीसीटीवी में कैद।

अंकलेश्वर। जीआईडीसी इलाके में स्थित गुरुकृपा सोसायटी के एक मकान में रात को अर्टिंगा कार में आए चार लोगों ने 3.50 करोड़ की लूट की। परिवार के सदस्य मनसुख रादडिया पत्नी और बेटे पर किसी ने बेहोशी की दवा सुंघाकर घटना को अंजाम दिया। इस घटना से आसपास के इलाकों में हड़कम्प मच गया है। पुलिस ने अपराध दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। चारों ने परिवार के सदस्यों को दी धमकी…

अंकलेश्वर जीआईडीसी पुलिस थाने में लिखाई गई रिपोर्ट के अनुसार जीआईडीसी इलाके में स्थित जलधारा चौकड़ी के पास गुरुकृपा सोसायटी में मनसुख रादडिया अपने परिवार के साथ रहते हैं। गुरुवार की रात को 4 अनजाने लोग उसके घर में घुस आए, फिर उन्होंने सभी को धमकी दी। उसके बाद सभी को बेहाेशी की दवा सुंघा दी। फिर आलमारी से माल-मत्ता निकालकर उसकी पोटली बनाई और उसे लेकर चम्पत हो गए। उनके द्वारा लूटे जेवरात एवं चीजों की कीमत करीब 3.50 करोड़ है।

लुटेरे CCTV में कैद

4 शख्स रादडिया परिवार के घर के सामने लगे सीसीटीवी में कैद हो गए हैं। लूट की घटना की जानकारी उस घर के लोगों ने तुरंत जीआईडीसी पुलिस थाने में दी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। पीआई आर के घूलिया ने बताया कि गुरुकृपा सोसायटी में गत रात्रि अर्टिंगा कार में आए 4 लोगों ने आकर परिवार के तीन सदस्यों को क्लोरोफार्म सुंघाया, फिर उन्हें अंदर के कमरे में ले जाकर पलंग से बांध दिया। उसके बाद आराम से साढ़े 3 करोड़ की माल लूटकर ले गए, जिसमें गहने और नकद भी शामिल है।

परिवार के सदस्यों को कमरे में बंधक बनाया। परिवार के सदस्यों को कमरे में बंधक बनाया।
जीआईडीसी इलाके में जलधारा चौकड़ी के पास स्थित गुुरुकृपा सोसायटी में हुई लूट की यह घटना। जीआईडीसी इलाके में जलधारा चौकड़ी के पास स्थित गुुरुकृपा सोसायटी में हुई लूट की यह घटना।
पास के घर मे लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए लुटेरे। पास के घर मे लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए लुटेरे।
जीआईडीसी पुलिस ने सीसीटीवी को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। जीआईडीसी पुलिस ने सीसीटीवी को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।