--Advertisement--

‘कांग्रेस ने हमें विरासत में दुर्दशा दी है, इसे ठीक करते-करते हम थक गए’

नडियाद में सोमवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को ललकारा।

Dainik Bhaskar

Dec 12, 2017, 04:26 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नडियाद में जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नडियाद में जनसभा को संबोधित किया।

नडियाद। कांग्रेस वाले यहां आकर कहते हैं कि यहां दवाखाना नहीं है, यहां स्कूल नहीं है, रोड नहीं है, जो चाहते हैं, वे बोल जाते हैं। मैं उनसे यह पूछना चाहता हूं कि क्या वे यहां दवाखाना खोलकर गए थे, जिस पर मैंने ताला लगा दिया है। आपके समय में यहां स्कूल था, जिसे मैंने बंद करवा दिया है। क्या आपने यहां रास्ता बनाया था, जिसे मैंने खोद डाला है। आजाद हिंदुस्तान में कांग्रेस ने 70 प्रतिशत समय तक राज किया है, ऐसी दुर्दशा उसने हमें विरासत में दी है। जिसे ठीक करते-करते हम भी थक गए हैं। विकास का मुद्दा भी उठाया…

नडियाद में जय महाराज के उद्बबोधन से अपने भाषण की शुरुआत करते हुए मोदी ने यूपीए सरकार तथा कांग्रेस पर शाब्दिक प्रहार करते हुए कहा कि साढ़े तीन सालों में मैंने देखा कि कांग्रेस ने केवल गड्ढे ही किए हैं। राजनीति के सिवाय उसने आज तक कुछ नहीं किया। सुबह से शाम तक यही सोचा कि किस तरह से अपना भला हो। फिर देश के लिए सोचना। कांग्रेस के दोस्तों को सच्ची बातें करें, तो उन्हें बुरा लगता है, वे जल-भुन जाते हैं।

गुजरात बिजली के लिए हाथ-पैर मारता था

सच सुनने को कोई तैयार नहीं है। रात-दिन केवल झूठ ही फैलाया जा रहा है। तीन महीनों से केवल कीचड़ ही उछाला जा रहा है। वे कहते हैं कि मोदी विकास की बात करते हैं, परंतु मोदी केवल 5 उद्योगपतियों के लिए ही काम कर रहे हैं। पर जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री बना, तो लोग मुझे कान में आकर धीरे से कहते कि रात में लाइट न होने के कारण बच्चों की पढ़ाई नहीं हो पा रही है। तब गुजरात लाइट के लिए इधर-उधर पैर मारता रहता था। उस समय चुनाव के टाइम बिजली की आवश्यकता पड़ी, तो कांग्रेस के मनमोहन सिंह ने 2007 में गुजरात के हक की बिजली महाराष्ट्र सरकार को दे दी। ताकि गुजरात अंधेरे में रहे, तो मोदी चुनाव हार जाए। कांग्रेस के अमर सिंह ने कहा कि गुजरात को 24 घंटे बिजली देना संभव नहीं है। यह बिजली मैंने अंबानी, टाटा-बिड़ला या अदाणी के घर में देने के लिए नहीं मांगी थी। ये मैंने आम आदमी के लिए मांगी थी।

मोरारजी भाई को लताड़ते हुए बाहर कर दिया था

नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में इंदिरा गांधी ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था। मोरारजी देसाई को लात मारकर वित्त मंत्री के पद से हटा दिया था। उनका अपराध केवल यही था कि उन्होंने पीएम के लिए अपनी दावेदारी पेश की थी। घाटी में आतंकवाद पर मोदी ने कहा कि गुजरात से गए अमरनाथ यात्री पर कांग्रेस के शासन में हमला हुआ था। इसमें कितनों की मौत हो गई थी। मुख्यमंत्री के रूप में मैंने कांग्रेस से बात की, परंतु हमलावर आतंकी कहां गए, इसकी खबर नहीं थी। पर एक प्रधानमंत्री के रूप में मैंने एक बार आतंकवादी हमला किया था। इस तरह से आतंकवादियों का धीरे-धीरे सफाया कर रहा हूं। कश्मीर में शांति के लिए प्रयास चल रहे हैं। नोटबंदी पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने क्या लूटा हे, एक वर्ष बाद भी उसके आंसू सूख नहीं पाए हैं। नोटबंदी में अनेक लोग पकड़े गए हैं, वे सभी तिहाड़ जेल में सड़ रहे हैं।

5 उद्योगपतियों की मदद करने के आरोप का दिया जवाब। 5 उद्योगपतियों की मदद करने के आरोप का दिया जवाब।
उन्हें सुनने के लिए उमड़ा जनसैलाब उन्हें सुनने के लिए उमड़ा जनसैलाब
विकास की गति को बनाए रखने का आह्वान। विकास की गति को बनाए रखने का आह्वान।
कांग्रेस ने दिल्ली में बैठकर राजनीति ही की है, लगाया आरोप। कांग्रेस ने दिल्ली में बैठकर राजनीति ही की है, लगाया आरोप।
कांग्रेस के 3 महीने के भाषण में दवाखाना नहीं है। कांग्रेस के 3 महीने के भाषण में दवाखाना नहीं है।
जय महाराज के संबोधन से शुरुआत कर नडियाद के रत्नों को याद किया। जय महाराज के संबोधन से शुरुआत कर नडियाद के रत्नों को याद किया।
X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नडियाद में जनसभा को संबोधित किया।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नडियाद में जनसभा को संबोधित किया।
5 उद्योगपतियों की मदद करने के आरोप का दिया जवाब।5 उद्योगपतियों की मदद करने के आरोप का दिया जवाब।
उन्हें सुनने के लिए उमड़ा जनसैलाबउन्हें सुनने के लिए उमड़ा जनसैलाब
विकास की गति को बनाए रखने का आह्वान।विकास की गति को बनाए रखने का आह्वान।
कांग्रेस ने दिल्ली में बैठकर राजनीति ही की है, लगाया आरोप।कांग्रेस ने दिल्ली में बैठकर राजनीति ही की है, लगाया आरोप।
कांग्रेस के 3 महीने के भाषण में दवाखाना नहीं है।कांग्रेस के 3 महीने के भाषण में दवाखाना नहीं है।
जय महाराज के संबोधन से शुरुआत कर नडियाद के रत्नों को याद किया।जय महाराज के संबोधन से शुरुआत कर नडियाद के रत्नों को याद किया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..