Hindi News »Gujarat »Vadodra» Std 10th Student Exam Writing Self Who Lost Hand And Lage

करंट से खोए हाथ-पैर, अब डॉक्टर बनना चाहता है शिवम

राइटर की मदद के बिना वह दसवीं बोर्ड की परीक्षा दे रहा है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 17, 2018, 04:22 PM IST

  • करंट से खोए हाथ-पैर, अब डॉक्टर बनना चाहता है शिवम
    +3और स्लाइड देखें
    दसवीं की परीक्षा दे रहा है शिवम।

    वडोदरा। जब शिवम केवल 11 साल का ही था, तब बिजली का करंट लगने से उसके हाथ-पैर किसी काम के नहीं रहे। अपने दृढ़ निश्चय के बल पर आज वह राइटर की मदद के बिना ही दसवीं बोर्ड की परीक्षा में शामिल हो रहा है। वह बड़ा होकर डॉक्टर बनना चाहता है। क्योंकि उसके माता-पिता चाहते थे कि वह डॉक्टर बने। हाथ पर मोजे पहनकर लिखने की कला मां ने सिखाई….

    शहर के बरानपुरा इलाके के विजयनगर में रहने वाले शिवम सोलंकी अपने माता-पिता के साथ रहता है। 11 साल की उम्र में पतंग पकड़ते हुए वह करंट का शिकार हुआ। जिससे उसके दोनों हाथ-पैरों ने उसका साथ छोड़ दिया। पिता किशनभाई सोलंकी नौकरी करते थे, इसलिए शिवम की जिम्मेदारी मां हंसा बेन ने उठा ली। हाथ-पैर खोकर शिवम तो पूरी तरह से निराश हो गया था, पर मां ने हिम्मत बंधाई। उसे आधे-अधूरे हाथ पर मोजे पहनाकर कलम पकड़ाई, फिर लिखना सिखाया। यह प्रेक्टिस 3 साल तक चलती रही। इस दौरान शिवम ने भी पूरा जोर लगाया। उसने उस तरीके से लिखने में मास्टरी प्राप्त कर ली। अाज वह उसी की बदौलत बिना राइटर की मदद से दसवीं की परीक्षा दे रहा है।

    डॉक्टर ही बनना है

    शिवम कहता है कि माता-पिता का सपना था कि मैं डॉक्टर बनूं। पर मेरे साथ हुए हादसे से उन्होंने यह समझ लिया कि अब मेरा जीवन ऐसे ही बीत जाएगा। पर मैंने तय कर लिया था कि उनका सपना साकार करुं। आज दसवीं की परीक्षा दे पा रहा हूं, यह मेरे लिए गर्व की बात है। मां ने जो हिम्मत दी, उससे यह साबित होता है कि मैं अवश्य डॉक्टर बनूंगा।

  • करंट से खोए हाथ-पैर, अब डॉक्टर बनना चाहता है शिवम
    +3और स्लाइड देखें
    पापा रोज मुझे स्कूल ले जाते और लाते।
  • करंट से खोए हाथ-पैर, अब डॉक्टर बनना चाहता है शिवम
    +3और स्लाइड देखें
    बोर्ड की परीक्षा में मैंने राइटर की मदद नहीं ली।
  • करंट से खोए हाथ-पैर, अब डॉक्टर बनना चाहता है शिवम
    +3और स्लाइड देखें
    हाथ पर पहने गए मोजे की मदद शिवम लिख लेता है।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Vadodra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×