Hindi News »Gujarat »Vadodra» Even Though Piyush Studied MA, B.Ed And PTC, He Did Not Get The Job

रोजगार का गुजरात मॉडल: एमए, बीएड वाला सफाईकर्मी

मुझे इस नौकरी को पाने के लिए कुछ भी लेना-देना नहीं पड़ा, यही बहुत है-पीयूष

Dainikbhaskar.com | Last Modified - May 09, 2018, 03:47 PM IST

  • रोजगार का गुजरात मॉडल: एमए, बीएड वाला सफाईकर्मी
    +1और स्लाइड देखें
    देवगढ़ बारिया में नाली साफ करता पीयूष पारेख।

    देवगढ़ बारिया।गुजरात में बेराेजगारी लगातर बढ़ रही है। इस हालात को बयां करती है यह तस्वीर, जो देवगढ़ बारिया के पीयूष पारेख की है, जो एम.ए., बी.एड. है, जिसने सफाईकर्मी का काम शुरू किया है। हाल ही में पुलिस बल में भी जो भर्ती हुई, उसमें 12 वीं पास लोगों से आवेदन मंगाए गए थे, पर उसमें इंजीनियर, एमबीए आदि उच्च शिक्षा प्राप्त युवकों ने आवेदन किया था। नौकरी बिना पैसे के मिल गई…

    पीयूष से जब पूछा गया कि उसने नगर पालिका में सफाईकर्मी की नौकरी क्यों स्वीकार की? तो उसने दिलचस्प जवाब दिया- उसका कहना था कि यह नौकरी मुझे बिना कुछ लिए-दिए मिल गई। यही बहुत है। पीयूष ने आईटीआई से मेकेनिक और सेनेटरी इंस्पेक्टर का कोर्स भी किया है।

  • रोजगार का गुजरात मॉडल: एमए, बीएड वाला सफाईकर्मी
    +1और स्लाइड देखें
    प्रतीकात्मक तस्वीर
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Vadodra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×