• Hindi News
  • Happylife
  • Chinese, German Or Hindi; But The Pronunciation Of Words Like Mother And Father Are Very Similar.

भाषाएं अलग, लेकिन शब्द एक जैसे:चीनी, जर्मन हो या हिंदी; पर मां और पिता जैसे शब्दों का उच्चारण काफी समान

7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दुनिया के किसी भी हिस्से में बोली जाने वाली भाषाओं में भले ही समानता न हो, लेकिन कुछ शब्दों की आवृत्ति लगभग एक सी होती है। चाहे वह जर्मन हो, चीनी या हिंदी। सभी भाषाओं में मां और पापा को बोलने का तरीका लगभग एक जैसा होता है। इतना ही नहीं, कुछ शब्द ऐसे भी हैं जिनके अक्षरों का क्रम तो बदल जाता है, लेकिन शब्दों का साउंड एक जैसा होता है।

हाल ही में एक स्टडी में सामने आया कि फादर और मदर शब्द में भिन्नताएं है। इसके बावजूद अंग्रेजी, यूनानी, स्पैनिश, फ्रेंच, जर्मन और इतालवी-भाषा में इन्हें बोलने का तरीका और साउंड एक सा है। कई भाषाओं में ‘मां’ में एम की ध्वनि एक जैसी है।

बच्चे स्वर जलदी समझते हैं
बच्चे कई बार बोलते समय बी या पी की ध्वनि निकालते हैं। इसी तरह टी और डी की ध्वनियां भी बुनियादी रूप से एक समान होती हैं, जिसमें दांतों के बीच जीभ के टैप से बोला जाता है। इसलिए डैडी, तागालोग में टाटा या क्वेचुआ में टायटा एक जैसा होता है। कुछ अफ्रीकी और इंडो-यूरोपीय भाषाओं के इंजेक्टिव्स (वो शब्द जो मुंह में हवा के दबाव का उपयोग कर बोले जाते हैं) एक जैसे होते हैं।

डॉग के लिए भारतीय उप महाद्वीप में बच्चे अक्सर भौं-भौं, अंग्रेजी में बाउ-वाउ और स्पैनिश में गुआ-गुआउ कहते हैं। बच्चे स्वर को समझने में अच्छे होते हैं, लेकिन अंग्रेजी बोलने वाले बच्चे कांसोनेंट का बेहतर तरीके से इस्तेमाल करते हैं। इसके बावजूद 5 साल की उम्र तक टीएच वाले शब्दों को बोलने में कठिनाई होती है। बच्चे सात साल तक स्पष्ट उच्चरण कर पाते हैं।

भाषा बदली, पर कुछ शब्दों की आवृत्ति वैसी ही
इंसान के अफ्रीका से पलायन के वक्त दुनिया में एक ही भाषा रही होगी। एक लाख साल पहले भाषा अस्तित्व में आई। हजारों साल में कई बदलाव हुए। भाषाएं अलग हो गईं, लेकिन कुछ शब्दों की आवृत्ति आज भी वैसी ही है।

खबरें और भी हैं...