रिसर्च:दिन में एक बार गाना भी कम कर सकता है डिमेंशिया का प्रभाव

7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • परिवार के साथ मिलकर गाइए, क्योंकि संगीत रिश्ते मजबूत बनाता है और मस्तिष्क के याददाश्त वाले हिस्से को सीधे प्रभावित करता है

गाना गाने से भी डिमेंशिया का प्रभाव कम होता है। एक शोध के अनुसार डिमेंशिया से पीड़ित व्यक्ति जब परिवार या दोस्तों के साथ मिलकर गाना गाता है तो क्वालिटी ऑफ लाइफ तो सुधरती ही है, साथ-साथ लोगों से बेहतर संबंधाें का भी अनुभव होता है। इससे आत्मविश्वास बढ़ता है। पीड़ित व्यक्ति को सोशल सपोर्ट का अहसास होता है। द न्यूयार्क एकेडमी ऑफ साइंस में प्रकाशित एक अन्य शोध के अनुसार संगीत का भावनाओं से सीधा संबंध है। यह मस्तिष्क में याददाश्त वाले हिस्से को सीधे प्रभावित करता है। हालांकि यदि आपको गाना गाने में हिचक महसूस होती है तो तीन तरीके और हैं जो डिमेंशिया के प्रभाव को कम करने में कारगर हैं।

स्मरण शक्ति बढ़ाने में यह तीन तरीके भी उपयोगी

खाने में शामिल करें फाइबर और हेल्दी फैट : ब्रेन हेल्थ एक्सपर्ट मैक्स लुगावेरे के अनुसार खाने में ऐसे पदार्थों को शामिल करें जो मस्तिष्क को पोषण पहुंचाए। इसमें फाइबर, हेल्दी फैट, मशरूम और मीट को शामिल किया जा सकता है। शुगर और प्रॉसेस्ड फूड को डाइट में बिल्कुल कम कर दें।

डांस भी फायदेमेंद : डांस भी डिमेंशिया से पीड़ित व्यक्तियों के लिए फायदेमंद है। ‘डांस बॉडी’ की फाउंडर कटिया प्राइसे के अनुसार डांस से हार्ट बीट बढ़ती है। मस्तिष्क की कार्य प्रणाली में सुधार होता है। न्यूरोप्लास्टिकसिटी मजबूत होती है।

बिना जूते एक्सरसाइज : पॉडियाट्रिस्ट (पैर संबंधी डॉक्टर) एमिली स्प्लिशल के अनुसार व्यक्ति का नर्वस सिस्टम पैरों में विशेषरूप से संवेदनशील होता है। ऐसी एक्सरसाइज कीजिए, जिसमें जूतों और मोजों की जरूरत न पड़े।

खबरें और भी हैं...