• Hindi News
  • Happylife
  • International Women's Health Day; Male Vs Female Cancer Stroke And Osteoporosis Anxiety Statistics

महिलाओं की सेहत:ये 6 तरह के कैंसर महिलाओं में पुरुषों से ज्यादा होते हैं, इनमें स्ट्रोक के मामले भी दोगुने; ऐसे कम करें खतरा

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

वैसे तो बीमारियां महिलाओं और पुरुषों में अंतर नहीं करतीं, लेकिन कुछ कई ऐसे रोग हैं जो पुरुषों की तुलना में महिलाओं को ज्यादा परेशान करते हैं। इनमें एंग्जाइटी, ब्रेस्ट कैंसर, स्ट्रोक और ऑस्टियोपोरोसिस शामिल हैं।

एक रिसर्च कहती है, 6 तरह के कैंसर महिलाओं को पुरुषों की तुलना में ज्यादा होते हैं। इसके अलावा स्ट्रोक के केस महिलाओं में पुरुषों से दोगुने पाए गए हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2020 में देश में लगभग 7.12 लाख महिलाओं की मौत कैंसर से हुई, जबकि कैंसर से मरने वाले पुरुषों की संख्या 7 लाख से कम रही।

इन बीमारियों का महिलाओं को अधिक परेशान करने का कारण उनके शरीर की बनावट भी है। अपोलो क्रेडल अस्पताल एवं स्प्रिंग मिडोज अस्पताल, नई दिल्ली की महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. अल्का मल्होत्रा से जानिए, वो बीमारियों जिससे महिलाएं अधिक जूझ रही हैं और उनसे कैसे बचें....

महिलाओं को पुरुषों से ज्यादा परेशान करती हैं ये चार बीमारियां

1. स्ट्रोक : पुरुषों से 52% अधिक मामले

  • मामले: इंडियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च की रिपोर्ट के मुताबिक, 1 लाख पुरुषों में 117 जबकि प्रति 1 लाख महिलाओं में 178 को स्ट्रोक की समस्या हुई। यानी पुरुषों की तुलना में 52% ज्यादा मामले सामने आए।
  • कारण: गर्भावस्था के दौरान ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है, जिससे स्ट्रोक का खतरा है। कुछ गर्भ निरोधक गोलियां भी ब्लड प्रेशर बढ़ाती हैं। माइग्रेन के कारण भी इसकी आशंका बढ़ती है।
  • कैसे बचें: ब्लड प्रेशर और शुगर का नियमित रूप से ध्यान रखें। दवाइयां नियमित रूप से लें।

2. कैंसर: ब्रेस्टफीड न कराना, हाई फैट डाइट इसके बड़े कारण

  • मामले: अमेरिकन कैंसर सोसायटी की रिपोर्ट कहती है, ब्रेस्ट कैंसर, कोलोरेक्टल, इंडोमेट्रिअल, फेफड़ों का कैंसर, सर्वाइकल, स्किन और ओवेरियन कैंसर ऐसे हैं जो पुरुषों की तुलना में महिलाओं को अधिक होते हैं।
  • कारण: इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर प्रिवेंशन एंड रिसर्च के मुताबिक, हाई फैट डाइट, मोटापा, देरी से विवाह, बच्चे न होना या कम होना और ब्रेस्टफीडिंग न कराना महिलाओं में कैंसर के बड़े कारण हो सकते हैं।
  • कैसे बचें: 10 से 40 वर्ष की उम्र में बच्चेदानी के कैंसर से बचाव के लिए टीकाकरण जरूर कराना चाहिए। जिनके परिवार में किसी को पहले स्तन कैंसर हुआ है, उन्हें डॉक्टर्स से सलाह पर 45 की उम्र के बाद मेमोग्राम कराना चाहिए।

3. ऑस्टियोपोरोसिस : पुरुषों से 18% तक ज्यादा मामले

  • मामले: इंडियन जर्नल ऑफ एंडोक्राइनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म में पब्लिश रिसर्च के अनुसार, 50 वर्ष से अधिक उम्र के 24.6% पुरुषों में जबकि 42.5% महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या पाई गई है।
  • कारण: महिलाओं की हडि्डयां पुरुषों की तुलना में कमजोर होती हैं। हडि्डयों को प्रोटेक्ट करने वाला हार्मोन एस्ट्रोजेन मोनोपॉज के बाद तेजी से घटता है।
  • कैसे बचें: रोजाना से दूध से बने खाद्य पदार्थों का सेवन करें। कैल्शियम युक्त फल और विटामिन-डी जरूर लें। विटामिन-डी के लिए सुबह 10 बजे से पहले 30 मिनट धूप में बिताएं।

3. एंग्जाइटी : हर सात में से एक इससे पीड़ित

  • मामले: द लैंसेट साइकियाट्री की रिपोर्ट कहती है, देश में हर सात में से एक व्यक्ति किसी न किसी मानसिक विकार से पीड़ित है। देश में 3.9% महिलाएं और 3.3% पुरुष एंग्जाइटी की समस्या से पीड़ित हैं।
  • कारण: हार्मोन्स में होने वाले बदलाव, वंशानुगत, बीमारी, यौन उत्पीड़न और घरेलू हिंसा।
  • कैसे बचें: संतुलित आहार लें। अगर नहीं ले पा रहे हैं तो मल्टीविटामिन लें। शराब, कैफीन और शक्कर का सेवन कम करें। रोज 20 मिनट टहलें या ऐसा कोई काम करें जो खुशी देता हो।
खबरें और भी हैं...