एक हफ्ते में धरती के नजदीक आएंगे 5 उल्का पिंड:18 सितंबर को स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से बड़ा एस्टेरॉयड करीब से गुजरेगा

10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हमारे सौर मंडल में और पृथ्वी के आसपास हजारों की संख्या में एस्टेरॉयड्स (उल्का पिंड) घूम रहे हैं। इनमें से कुछ छोटे पत्थरों के बराबर हैं, तो कुछ चंद्रमा से भी बड़े हैं। अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा की मानें तो 18 सितंबर को दुनिया की सबसे लंबी मूर्ति स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से भी बड़ा एस्टेरॉयड धरती के बेहद करीब से गुजरने वाला है।

एस्टेरॉयड का नाम 2005 RX3
पृथ्वी के नजदीक आने वाले उल्का पिंड का नाम 2005 RX3 है। यह 62,820 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हमारे ग्रह की तरफ बढ़ रहा है। यह ऑब्जेक्ट 18 सितंबर को धरती के 47 लाख किलोमीटर करीब आएगा। कॉसमिक स्केल पर देखें तो यह दूरी ज्यादा नहीं है।

स्पेस एजेंसी के मुताबिक, यह एस्टेरॉयड 2005 में यानी 17 साल पहले हमारे करीब से गुजरा था। तब से लेकर अब तक नासा की जेट प्रोपल्जन लैबोरेटरी इस पर नजर बनाए हुए है। अनुमान है कि अब अगली बार यह मार्च 2036 में धरती के पास से गुजरेगा।

इस हफ्ते 5 एस्टेरॉयड्स हमारे करीब आएंगे
नासा ने 10 सितंबर को एक चेतावनी जारी कर बताया था कि 11 से 18 सितंबर के बीच 5 उल्का पिंड पृथ्वी के करीब आएंगे। इनमें से एक 2005 RX3 है। आइए बाकी चार एस्टेरॉयड्स के बारे में भी जानते हैं…

  1. 2022 QF: इसकी खोज अगस्त 2022 में हुई थी। यह 140 फीट चौड़ा एस्टेरॉयड है, जो 11 सितंबर को धरती के सबसे नजदीक था। उल्का पिंड 30,384 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से हमारे प्लैनेट के 73 लाख किलोमीटर करीब आया था।
  2. 2008 RW: इसकी खोज 2008 में की गई थी। एस्टेरॉयड का साइज 310 फीट है। यह 238 फीट बड़े कुतुब मीनार से भी विशाल है। यह 12 सितंबर को 36,756 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पृथ्वी के 67 लाख किलोमीटर नजदीक आया था।
  3. 2022 QD1: 242 फीट बड़े इस उल्का पिंड को अगस्त 2022 में खोजा गया था। यह एक बार में पूरे एक शहर को बर्बाद कर सकता है। नासा के अनुसार, यह 16 सितंबर को 34,200 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से धरती के 74 लाख किलोमीटर करीब आ जाएगा।
  4. 2022 QB37: 18 सितंबर को 2005 RX3 के साथ-साथ यह एस्टेरॉयड भी हमारे ग्रह के करीब से गुजरेगा। इसकी स्पीड 33,192 किलोमीटर प्रति घंटा होगी और 183 फीट बड़ा यह उल्का पिंड 65 लाख किलोमीटर पास आ जाएगा।
खबरें और भी हैं...