कुछ पल प्रकृति के बीच भी बिताएं:प्रकृति के बीच बागवानी या एक्सरसाइज करते हैं तो खुश रहता है मन, दूर होती है बेचैनी; अमेरिकी वैज्ञानिकों ने भी की पुष्टि

7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अगर मन को प्रसन्न रखना है तो प्रकृति के बीच समय बिताएं। प्राकृतिक जगहों पर बागवानी और एक्सरसाइज करते हैं तो बेचैनी दूर होती है और मन बेहतर महसूस करता है। इंसान मानसिक समस्याओं से दूर रहता है।

यह दावा इंग्लैंड की यॉर्क यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अपनी हालिया रिसर्च में किया है। शोधकर्ताओं का कहना है, प्रकृति के बीच एक्टिविटी करने से इंसान की मानसिक सेहत पर क्या असर पड़ता है। यह जानने के लिए रिसर्च की गई।

रिसर्च में सामने आया कि 8 से 12 हफ्ते के बीच अगर इंसान 20 से 90 मिनट तक प्रकृति के बीच बिताता है तो मानसिक तौर पर वो बेहतर महसूस करता है।

मेंटल हेल्थ के लिए जरूरी है प्रकृति का साथ
शोधकर्ता डॉ. पीटर कोवेंट्री कहते हैं, हम जानते हैं कि प्रकृति के बीच कुछ समय बिताना सेहत के लिए अच्छा होता है। लेकिन रिसर्च में यह साबित हुआ है कि यह मेंटल हेल्थ के लिए भी उतना ही अच्छा है। प्रकृति के बीच गार्डनिंग, एक्सरसाइज और पौधों के संरक्षण से जुड़ी एक्टिविटी मन को तरोताजा करती है। ऊर्जा भरने का काम करती है।

ग्रुप में समय बिताएं तो मिलता है ज्यादा फायदा
शोधकर्ता पीटर कहते हैं, अगर ऐसी जगहों पर इंसान ग्रुप के साथ समय बिताता है और अलग-अलग तरह की पॉजिटिव एक्टिविटी करता है तो उसकी मेंटल हेल्थ और ज्यादा फायदा होता है।

प्रकृति संग समय बिताना अच्छी सेहत के लिए निवेश की तरह

रिसर्च कहती है, अगर लोग खुद को स्वस्थ रखना चाहते हैं कुछ समय प्रकृति के साथ बिताना जरूरी है। यह भी अच्छी सेहत के लिए एक तरह का निवेश है, जिसका फायदा मानसिक तौर पर मिलता है।

रिसर्च में मेंटल हेल्थ के लिए फायदे तो समझाए गए हैं लेकिन ऐसी आउटडोर एक्टिविटीज से शरीर को कितना फायदा पहुंचता है, इससे जुड़े प्रमाण नहीं दिए गए हैं। शोधकर्ताओं का कहना है, रिसर्च के अगले पड़ाव में इसके शॉर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म फायदों को समझने की जरूरत है।

खबरें और भी हैं...