सबसे तेजी से बढ़ने वाला ब्लैक होल मिला:9 अरब साल से हर सेकंड पृथ्वी के बराबर बढ़ रहा, सूर्य से 3 अरब गुना बड़ा

सिडनी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अंतरिक्ष में आज भी ऐसे कई रहस्य हैं, जिनसे इंसान बेखबर है। हाल ही में ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी (ANU) के वैज्ञानिकों ने नौ अरब सालों से सबसे तेजी से बढ़ते ब्लैक होल की खोज की है। यह इतना शक्तिशाली है कि हर सेकंड पृथ्वी के बराबर बढ़ रहा है। इसका द्रव्यमान भी सूर्य से 3 अरब गुना ज्यादा बताया जा रहा है। रिसर्चर्स का कहना है कि ब्लैक होल को अंधेरे क्षेत्रों में टेलिस्कोप की मदद से आसानी से देखा जा सकता है।

50 साल से चल रही थी खोज

वैज्ञानिकों के मुताबिक एक खास प्रकार के तारों की खोज के दौरान यह ब्लैक होल पाया गया।
वैज्ञानिकों के मुताबिक एक खास प्रकार के तारों की खोज के दौरान यह ब्लैक होल पाया गया।

यह रिसर्च arXiv जर्नल में प्रकाशित हुई है। वैज्ञानिकों के मुताबिक एक खास प्रकार के तारों की खोज के दौरान यह ब्लैक होल पाया गया। लीड रिसर्चर क्रिस्टोफर ओंकेन का कहना है कि इस तरह के ऑब्जेक्ट की खोज वैज्ञानिक 50 साल से करने की कोशिश कर रहे हैं। अब तक वैज्ञानिकों ने कई ब्लैक होल्स की खोज की, लेकिन उनकी नजर से यह ब्लैक होल छूट गया।

Sagittarius A* से 500 गुना बड़ा

कुछ महीने पहले ही रिसर्चर्स ने हमारी मिल्की वे गैलेक्सी में Sagittarius A* नाम के ब्लैक होल की खोज की थी। यह आकाशगंगा के बीचोंबीच स्थित है। शोधकर्ताओं की मानें तो अभी मिला ब्लैक होल इसके मुकाबले 500 गुना ज्यादा बड़ा है। खोज में शामिल सैमुएल लाई कहते हैं कि यह ब्लैक होल इतना बड़ा है कि इसमें हमारे सौरमंडल के ग्रहों की सभी कक्षाएं भी समा सकती हैं।

तारों से 7 हजार गुना ज्यादा चमकदार

यह ब्लैक होल इतना बड़ा है कि इसमें हमारे सौरमंडल के ग्रहों की सभी कक्षाएं भी समा सकती हैं।
यह ब्लैक होल इतना बड़ा है कि इसमें हमारे सौरमंडल के ग्रहों की सभी कक्षाएं भी समा सकती हैं।

बाकी ब्लैक होल्स की तरह अभी मिला ब्लैक होल काफी चमकदार है। वैज्ञानिकों का कहना है कि यह आकाशगंगा के तारों की तुलना में 7 हजार गुना ज्यादा चमकदार है। ओंकेन कहते हैं कि हो सकता है दो आकाशगंगा आपस में टकरा गई हों। इसके चलते ब्लैक होल को अपने अंदर समाने के लिए अंतरिक्ष के कई ऑब्जेक्ट्स मिल गए हों, जिससे यह बेहद चमकदार हो गया है।

खबरें और भी हैं...