• Hindi News
  • Happylife
  • Taking Zinc Supplements Could Help To Cure Coughs And Colds And Speed Up Your Recovery By TWO Days, Study Claims

सर्दी-खांसी के असरदार इलाज का दावा:दो दिन में सर्दी-खांसी दूर कर सकता है जिंक, यह सिरदर्द, बहती नाक और बुखार के लक्षणों में कमी लाता है

22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

खानपान में मौजूद जिंक से सर्दी-खांसी को रोका जा सकता है और इसके लक्षणों में कमी लाई जा सकती है। नई रिसर्च कहती है, ऐसे मामलों में जिंक सप्लिमेंट्स लेने पर मात्र 2 दिन में रिकवरी की जा सकती है। यह दावा वेस्टर्न यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अपनी हालिया रिसर्च में किया है।

शोधकर्ताओं का दावा है, जिंक संक्रमण की दर को कम करने के साथ बीमारी का समय भी घटाता है। हालांकि, इसकी कितनी मात्रा लेनी चाहिए, यह साफतौर पर नहीं बताया जा सका है।

वेस्टर्न यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने ऐसे दर्जनभर से अधिक अध्ययनों की पड़ताल की जिसमें जिंक और सांस नली में संक्रमण के बारे में बताया गया था। इसके अलावा उनकी अपनी रिसर्च में सामने आया कि जिंक सर्दी-खांसी के लक्षणों में भी कमी ला सकता है। यह बहती नाक, सिरदर्द और शरीर के बढ़े हुए तापमान को घटा सकता है।

जिंक क्या है, यह क्यों जरूरी है और रिसर्च में कौन-सी नई बातें सामने आईं, जानिए इन सवालों के जवाब...

जिंक शरीर में करता क्या है?
जिंक एक ऐसा पोषक तत्व है जो शरीर में कई तरह से काम करता है। यह शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाने, पाचन को बेहतर करने और सूजन को रोकने में मदद करता है। मीट, शेलफिश और चीज में जिंक अच्छी मात्रा में पाया जाता है।

ब्रिटेन की स्वास्थ्य एजेंसी NHS का कहना है, खानपान के जरिए पुरुष 9.5 mg और महिलाएं 7 mg जिंक ले सकते हैं। एक्सपर्ट का कहना है, अगर जिंक सप्लिमेंट ले रहे हैं तो इसकी बताई गई मात्रा से अधिक न लें। ऐसा करने पर शरीर में आयरन की कमी हो सकती है और हड्डियां कमजोर हो सकती हैं।

रिसर्च में क्या सामने आया, अब इसे समझिए
शोधकर्ताओं की टीम ने 5500 लोगों पर किए जा रहे जिंक के 28 ट्रायल्स की पड़ताल की। रिसर्च कहती है, सर्दी-खांसी से जूझने वाले मरीजों को जिंक ओरल या नाक में स्प्रे के जरिए दिया जा सकता है।

रिसर्च के दौरान जिन्हें जिंक दिया, 2 दिन में उनकी हालत में सुधार देखा गया। वहीं, जिन मरीजों को जिंक नहीं दिया गया उनमें सातवें दिन तक लक्षण बने रहे।

शोधकर्ताओं का कहना है, अगर सर्दी-खांसी बहुत ज्यादा गंभीर स्तर पर पहुंच गई है तो जिंक रोजाना लक्षणों में कमी नहीं लाता, लेकिन तीसरे दिन से इसका असर दिखने लगता है।

दावा; नहीं दिखे साइड इफेक्ट
रिसर्च में दावा किया गया है, अध्ययन के दौरान किसी भी मरीज में जिंक के साइड इफेक्ट नहीं देखे गए। इसलिए यह कहा जा सकता है कि जो लोग सर्दी-खांसी के इलाज का असरदार विकल्प तलाश रहे हैं, उनके लिए जिंक बेहतर साबित हो सकता है।

हालांकि, शोधकर्ताओं का कहना है, यह रिसर्च कम लोगों पर की गई है। इसे बड़े स्तर पर करने की जरूरत है।

डाइट में इन 5 चीजों से जिंक की कमी पूरी करें

1. तरबूज के बीज और नट्स : इसमें जिंक और पोटैशियम पर्याप्त मात्रा में होता है। तरबूत के बीजों को सुखा लें और इसे पीसकर अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं। इसके अलावा रोजाना एक मुट्‌ठी ड्रायफ्रूट्स ले सकते हैं।

2. मछली : इसमें जिंक, प्रोटीन के अलावा भी कई पोषक तत्व अच्छी मात्रा में होते हैं। इसे हफ्ते में दो बार लिया जा सकता है। जिंक आपकी इम्युनिटी बढ़ाने में भी मदद करता है।

3. अंडा : एक अंडे में 5 फीसदी तक जिंक होता है। एक्सपर्ट कहते हैं, इसे रोज अपनी डाइट में शामिल करें। यह इम्युनिटी बढ़ाने के साथ डैमेज हुई मांसपेशियों को रिपेयर भी करता है।

4. डेयरी प्रोडक्ट : अगर नॉनवेज खाना पसंद नहीं तो डाइट में डेयरी प्रोडक्ट की मात्रा बढ़ा सकते हैं। दूध, चीज, दही से भी जिंक की कमी पूरी की जा सकती है।

5. डार्क चॉकलेट : यह सिर्फ जिंक की कमी ही नहीं पूरी करती बल्कि पीरियड में होने वाले दर्द से भी राहत देती है। डार्क चॉकलेट मेटाबॉलिज्म को बेहतर बनाती है और मूड हैप्पी रखती है।

खबरें और भी हैं...