अकेलेपन के लिए बना कॉल सेंटर:समस्या का हल निकलने तक लोगों से बात करते हैं, इससे खुदकुशी करने वाले घटे

न्यूयॉर्क6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लेखक: साराह बेरिल गोडेट

कई बार आप अपने मन की बात करने के लिए आस-पास किसी समझदार और भरोसेमंद व्यक्ति की तलाश करते हैं, जो बिना जज किए आपकी बात सुने और उसे अपने तक ही रखे। कुछ ऐसे लोगों की मदद करने के लिए कनाडा में एक कॉल सेंटर ‘तेल-एइद मोन्टरियल’ खोला गया। जहां लोग फोन कर अपनी परेशानी या तनाव के बारे में बात कर सकते हैं।

कोरोनाकाल में बढ़ी कॉल सेंटर की डिमांड
कॉल सेंटर के लोग चिंतित और परेशान लोगों को सीधे उनकी समस्या का समाधान नहीं बताते, बल्कि समय देकर उनकी बातें सुनते हैं और घुमा-फिराकर समाधान तक पहुंचाते हैं। वैसे तो यह कॉल सेंटर पिछले कई सालों से डिप्रेशन और एंग्जाइटी जैसी समस्याओं से जूझ रहे लोगों की बातें सुन रहा है, लेकिन कोरोनाकाल में डिमांड अचानक से बढ़ गई।

लॉकडाउन में अकेले फंस गए लोगों को इसी कॉल सेंटर का सहारा मिला। किसी ने आत्महत्या करने तो किसी ने नशे के आदी होने की बात कही। इस तरह कई लोगों को आत्महत्या करने से रोका और हजारों को डिप्रेशन से बाहर निकलने में मदद की।

मदद की भावना से कॉल सेंटर में काम करते हैं लोग
इस कॉल सेंटर में लोग दूसरों की मदद करने की भावना के साथ काम करते हैं। या फिर ऐसे लोगों को रखा जाता है जो दूसरों के दर्द को समझना चाहते हैं। कॉल सेंटर में लोगों को रखने से पहले आने वाले कॉल सुनाकर टेस्ट भी होता है।

खबरें और भी हैं...