वैक्सीन पर डब्ल्यूएचओ का बयान / हमारे पास कोरोना की वैक्सीन कभी नहीं रही, उम्मीद है यह अगले एक साल में यह तैयार हो जाएगी

X

  • डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस ने यूरोप की संसदीय स्वास्थ्य कमेटी से ऑनलाइन कॉफ्रेंसिंग के दौरान दिया बयान
  • कहा-यह निश्चित नहीं किया जा सकता है कि वैज्ञानिक कोरोना के खिलाफ प्रभावी वैक्सीन विकसित कर पाएंगे

दैनिक भास्कर

Jun 26, 2020, 08:16 PM IST

वैक्सीन पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने अपना बयान जारी किया है। डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अधेनॉम गेब्रेसियस ने कहा, यह निश्चित नहीं किया जा सकता है कि वैज्ञानिक कोरोना के खिलाफ प्रभावी वैक्सीन विकसित कर पाएंगे। हमें उम्मीद है कोविड-19 की वैक्सीन आएगी। यह अगले एक साल में अंदर तैयार हो सकती है। 

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस ने यह बात यूरोप की संसदीय स्वास्थ्य कमेटी से ऑनलाइन कॉफ्रेंसिंग के दौरान कही।

वैक्सीन तैयार करने के प्रयास जारी
टेड्रोस के मुताबिक, हमारे पास कोरोना की वैक्सीन कभी नहीं थी। इसलिए जब यह तैयार होगी तो सामने आएगी। इसे तेजी से तैयार करने के प्रयास जारी हैं। ऐसे में हो सकता है कि यह एक साल के अंदर या कुछ महीने में भी तैयार हो सकती है। वैज्ञानिक भी यही बात कर रहे हैं।

अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आगाह किया
टेड्रोस अधेनॉम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान अंतरराष्ट्रीय समुदाय को आगाह किया। उन्होंने कहा, दुनियाभर में कोरोनावायरस अभी भी फैल रहा है। यह समय हमें खुद को सुरक्षित रखने का है, इसलिए बचाव की हर सावधानी बरतें।

चीनी रणनीति की तारीफ की

डॉ. टेड्रोस ने इस बात को खारिज किया कि जिसमें कहा गया था कि चीन ने महामारी के बारे में अन्य देशों को समय से आगाह नहीं किया। उन्होंने कहा कि किसी चीज को लेकर रिस्पॉन्स करने की तुलना करना संभव नहीं थी।
डॉ. टेड्रोस ने चीन की तारीफ करते हुए कहा, उसने अपने यहां कोरोना पर काबू करने के लिए बेहतर रणनीति बनाई और उसका पालन भी किया। वुहान में कम्युनिटी लेवल पर किए गए बचाव और चीनी प्रशासन का काम सराहनीय रहा। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना