--Advertisement--

हाईवे पर हररोज हो रही 3-4 मौत, प्रदेश में 231 एक्सीडेंट प्रोन एरिया, मात्र 18 जगह लगे सीसीटीवी

राष्ट्रीय राजमार्ग से लेकर संपर्क मार्गों पर हो रहे हादसों में प्रतिदिन तीन से चार लोगों की जान जा रही है।

Danik Bhaskar | Dec 21, 2017, 08:17 AM IST

अम्बाला. राष्ट्रीय राजमार्ग से लेकर संपर्क मार्गों पर हो रहे हादसों में प्रतिदिन तीन से चार लोगों की जान जा रही है। कहीं न कहीं क्रिमिनल भी आसानी से वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाता है। फिर न तो पुलिस के पास हादसे के सही कारणों का पता लगाने के लिए ठोस वजह बचती है और न पुलिस क्रिमिनल की शिनाख्त कर पाती है। ऐसे ही मामलों पर नकेल कसने के लिए डीजीपी हरियाणा ने 231 जगह सीसीटीवी कैमरे लगवाने के निर्देश दिए थे, मगर पुलिस महज 18 जगह ही कैमरे लगा पाई। यही वजह है कि अब दोबारा डीजीपी ने बाकी सभी 213 जगह जल्द सीसीटीवी कैमरे लगाने के आदेश दिए हैं। इसे लेकर सभी आईजी रेंज और एसपी को पत्र भी लिखा गया है। अम्बाला के एसपी अभिषेक जोरवाल ने बताया कि डीजीपी की तरफ से हाईवे पर सीसीटीवी कैमरे लगवाने के लिए कहा गया है। अम्बाला में सभी दोनों मेजर प्वाइंट पर कैमरे लगे हुए हैं। बाकी अन्य जगह जल्द लगवा दिए जाएंगे।

अम्बाला में एमटी क्रॉसिंग सबसे बड़ा डेंजर प्रोन एरिया है। दिल्ली से चंडीगढ़ या अमृतसर जाने वाले वाहन एमटी क्रॉसिंग पर पहुंचकर डायवर्ट होते हैं। यहां से दोनों हाईवे अपनी-अपनी जगह बनाते हैं जिस कारण दिल्ली से आने वाला चालक भ्रमित हो जाता है। फिर हादसे को अंजाम दे बैठता है। हालांकि यहां दिशा मार्ग के बोर्ड भी लगाए गए हैं, मगर उन्हें भी एकदम समझ पाना मुश्किल हो जाता है। अभी हाल ही में एक ट्रक कंफ्यूज होने के बाद दिशा बोर्ड से टकरा गया था जिस कारण लंबा जाम लग गया था।

प्रदेश में 8 मेजर जोन

अम्बाला: अम्बाला-चंडीगढ़ हाईवे पर एमटी क्रॉसिंग तथा अम्बाला-दिल्ली हाईवे पर शास्त्री कट मेजर जोन हैं जहां अक्सर हादसे होते हैं। साथ ही क्रिमिनल भी वारदात के बाद इन रास्तों से होकर दूसरी जगह प्रवेश करता है।
करनाल: यहां शनि मंदिर के पास सीसीटीवी कैमरा लगाने के आदेश दिए गए हैं।
पानीपत: यहां पट्टी कल्याणा तथा जीटी रोड के साथ लगते गांव मनाना मोड़ पर कैमरे लगने की आवश्यकता है।
सोनीपत: यहां गांव संपेड़ा मोड़ तथा गांव हंसपुर नजदीक देवात राइस मिल के पास जल्द से जल्द कैमरा लगना चाहिए।