Hindi News »Haryana »Ambala» Bank Sent 1 Crore 25 Lakhs To Account Holder By Mistake

किसान ने USA में बेटे के दोस्त को भिजवाए 1 लाख 93 हजार रु., बैंक ने खाताधारक को भेज दिए ‌1 करोड़ 25 लाख

लापरवाही से सदर बाजार स्थित इंडियन बैंक को लगभग 1 करोड़ 25 लाख रुपए की चपत लग गई है।

हरिंद्रपाल सिंह | Last Modified - Jan 26, 2018, 06:24 AM IST

किसान ने USA में बेटे के दोस्त को भिजवाए 1 लाख 93 हजार रु., बैंक ने खाताधारक को भेज दिए ‌1 करोड़ 25 लाख

अम्बाला.क्लर्क की गलत एंट्री और वेरीफिकेशन में लापरवाही से सदर बाजार स्थित इंडियन बैंक को लगभग 1 करोड़ 25 लाख रुपए की चपत लग गई है। दरअसल, यूएसए के एक खाते में 1 लाख 93 हजार रुपए की जगह 1 लाख 93 हजार यूएस डॉलर ट्रांसफर हो गए। एसएमएस आते ही यूएसए में बैठे फेडरल बैंक के खाताधारक गुरचरण ने बिना देर किए सारे रुपए निकाल कर खाता खाली कर दिया।

गुरचरण मूलरूप से पटियाला के बनूड़ का रहने वाला है और यूएसए में ग्रीन कार्ड होल्डर है। घटना 19 दिसंबर 2017 की है। 11 दिन बाद 30 दिसंबर को क्लोजिंग के दौरान बैंक को गलती पकड़ में आई। तब से इंडियन बैंक के अधिकारी रुपए वापस लाने के लिए बैंक में रोजाना देर रात तक मीटिंग कर रहे हैं। बैंक मैनेजर मोहिंदर मनचंदा ने कैंट पुलिस को शिकायत दी है।


दरअसल, शाहाबाद निवासी गुरविंदर सिंह यूएसए में इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे अपने बेटे गगन सिंह को 3011 यूएस डॉलर भेजने के लिए बैंक गए, पर उनके पास पैन कार्ड नहीं था, तो ट्रांजेक्शन नहीं हो पाया। एेसे में गुरविंदर सिंह ने शाहाबाद के ही रहने वाले गगन के दोस्त बिक्रम के अकाउंट में 3011 डॉलर जमा करा दिए। बैंक ने बिक्रम के अकाउंट में डॉलर को रुपए में कनवर्ट किया, जो करीब 1.93 लाख रुपए हुए। तकनीकी चूक हुई और गलती से अकाउंट में रुपए की जगह 1.93 लाख डॉलर सेव हो गया। तभी बिक्रम ने यूएसए में रहे गगन के परिचित गुरचरण के खाते में 1.93 लाख रुपए ट्रांसफर करने का आवेदन किया और क्लर्क ने 1.93 लाख डॉलर ट्रांसफर कर दिए।

बैंक मैनेजर मोहिंदर मनचंदा ने कैंट पुलिस को दी शिकायत

कर्मचारी की गलती से पैसा ट्रांसफर हो गया था। पुलिस को शिकायत दी गई है। खाताधारक पैसे देने में आनाकानी कर रहा है।
-महेन्द्र मनचंदा, मैनेजर इंडियन बैंक

मैंने जो पैसा बिक्रम के बैंक अकाउंट में जमा कराया था और जो पैसा यूएसए के खाताधारक को भेजने के लिए फार्म भरा था, इसमें 1 लाख 93 हजार रुपए ही भरे हुए हैं। जिस खाते में पैसा भेजा गया है, वो किसी तीसरे व्यक्ति का है।
-गुरविंदर सिंह, शाहबाद निवासी

ब्लड रिलेशन में ही विदेश में भेजा जा सकता है रुपया

ब्लड रिलेशन में ही विदेश में रुपया भेजा जा सकता है। अगर किसी दोस्त या परिचित के खाते में पैसा भेजना है तो उससे एक एड्रेस प्रूफ व रिलेशन के संबंध में शपथपत्र लेना होता है। इसके लिए शुल्क अलग से देना होता है। विदेश में पैसा ट्रांसफर करने के लिए संबंधित बैंक में खाता होना अनिवार्य है और उस खाते में पैसा जमा होने के बाद ही विदेश में पैसा ट्रांसफर किया जाता है।

दो लाेग होते हैं जिम्मेदार

विदेश में रुपया भेजने के लिए दो लोग जिम्मेदार होते हैं। एक जिसने बैंक में अप्रूव किया और दूसरा जिसने ट्रांसफर किया। बैंक टीम मामले को लेकर जांच करेगी और चंडीगढ़ में अनुशासनात्मक कमेटी इस पर कार्यवाही के लिए लिखेगी। अमाउंट बड़ा हो तो कर्मचारी को बर्खास्त भी किया जा सकता है। चूंकि कर्मचारी का पीएफ और ग्रेच्युटी इतना नहीं होता है। कर्मचारी की प्रापर्टी से भी रकम वसूली जा सकती है। -प्रवेन्द्र धमीजा, रिटायर्ड डिप्टी मैनेजर, एसबीआई

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Haryana News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: kisaan ne USA mein bete ke dost ko bhijvaae 1 laakh 93 hazaar ru., bank ne khaataadhaark ko bhej die ‌1 karode 25 laakh
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ambala

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×