--Advertisement--

शार्ट सर्किट से लगी आग, बेटी झुलसी तो जिंदा जल गई नेत्रहीन मां

कुरुक्षेत्र में रेलवे स्टेशन के नजदीक देर रात हुई घटना।

Danik Bhaskar | Dec 03, 2017, 04:30 AM IST

कुरुक्षेत्र (अंबाला)। शहर के छोटे रेलवे स्टेशन के नजदीक स्थित एक झुग्गी में शुक्रवार रात आग लगने से 55 वर्षीय नेत्रहीन महिला मोनाधारी जिंदा जल गई। उसकी 9 साल बेटी पूजा भी झुलस गई, जो पीजीआई चंडीगढ़ में भर्ती है। जांच अधिकारी एएसआई अमर सिंह ने बताया कि पूजा की हालत ठीक है। उसने बताया कि झुग्गी में गत्ते पर मोमबत्ती रखी थी। चूल्हा भी जल रहा था। उसके पापा मोहनगिरि देर रात घर पहुंचे और चाय बनाने के लिए चूल्हा जलाकर दूध लेने चले गए। इस दौरान उसे नींद गई। हालांकि आग कैसे लगी पूजा स्पष्ट नहीं कर पाई है।

- प्रोफेसर कॉलोनी के सामने रेलवे की जगह में करीब 30 झुग्गियां हैं। यहां रहने वाली सावित्री देवी ने बताया कि शुक्रवार रात 11 बजे जब वह लघुशंका के चलते बाहर निकली तो साथ की झुग्गी में आग लगी थी और पूजा चिल्ला रही थी।

- सावित्री के बेटों ने पूजा को बाहर निकाला। तब तक पूरी झुग्गी आग की चपेट में चुकी थी। इसके बाद बाल्टियों से पानी डालकर आग बुझाई। सूचना पर फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी पहुंची, लेकिन उसे काफी देर तक रास्ता नहीं मिला। सड़क से ही पानी डाला गया। झुलसी मां-बेटी को सिविल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां मां को मृत घोषित किया गया। बताया गया कि पूजा पास के ही एक स्कूल में चौथी कक्षा में पढ़ती है।

आगे की स्लाइड्स में देखें फोटोज...