Hindi News »Rajasthan »Sikar» Cbi Questioned From IPS Who Involved In Anandpal Encounter

किसान फैमिली से हैं ये आईपीएस ऑफिसर, इस वजह से फिर आए चर्चा में

आनंदपाल एनकाउंटर में शामिल हरियाणा के आईपीएस बिजारणिया सहित कई पुलिसवालों से सीबीआई ने पूछताछ की।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 09, 2018, 08:15 AM IST

  • किसान फैमिली से हैं ये आईपीएस ऑफिसर, इस वजह से फिर आए चर्चा में
    +5और स्लाइड देखें
    आईपीएस बिजारणिया फिलहाल सिरसा में एएसपी पद पर अप्वाइंट हैं। वे 2015 बैच के आईपीएस ऑफिसर हैं।

    चुरू( राजस्थान). बृहस्पतिवार को आनंदपाल एनकाउंटर में शामिल हरियाणा के आईपीएस बिजारणिया सहित कई पुलिसवालों से सीबीआई ने पूछताछ की। इस केस में हरियाणा पुलिस के 10 से अधिक जवानों से पूछताछ कर उनके बयान दर्ज किए गए हैं। हरियाणा के पुलिस वालों से सीबीआई की टीम ने सुबह करीब 10 बजे से लेकर दोपहर करीब दो बजे तक पूछताछ की। चार घंटे तक चली पूछताछ

    - चार घंटे तक चली पूछताछ के बाद आईपीएस बिजारणिया अपनी टीम के साथ चूरू से रवाना हो गए।

    - बताया जा रहा है कि सीबीआई की टीम अब राजपूत समाज के नेताओं से भी पूछताछ करेगी। कुछ को नोटिस भी भिजवाए गए हैं।

    कौन हैं आईपीएस बिजारणिया

    - बता दें कि आईपीएस बिजारणिया फिलहाल सिरसा में एएसपी पद पर अप्वाइंट हैं। वे 2015 बैच के आईपीएस ऑफिसर हैं। इससे पहले वे 2011 से 2014 तक सेंट्रल एक्साइज एंड कस्टम डिपार्टमेंट में रहे।
    - आनंदपाल एनकांउटर के समय वे ट्रेनी आईपीएस के रूप में अप्वाइंट थे।

    वे मूल रूप से राजस्थान के सीकर जिले के रहने वाले हैं। उनके पिता खेती करते हैं, जबकि उनकी मां हाउसवाइफ हैं।

    - आईपीएस नरेंद्र ने मालवीय राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान जयपुर से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कीऔर फिर पुलिस सर्विसेज को चुना।


    ट्रेनिंग के आखिरी दिन इस IPS ने कराया गैंगस्टर का एनकाउंटर
    - बतौर ट्रेनी आईपीएस नरेंद्र को फरवरी 2017 में हरियाणा के सिरसा जिला में भेजा गया था। यहां उन्हें थाना डिंग का कार्यभार सौंपा गया था।
    - नरेंद्र को एक मुखबिर ने इनफॉर्मेशन दी थी कि गांव शेरपुरा में सुरेंद्र नाम के शख्स के घर कुख्यात आनंदपाल के भाई छिपे हैं।
    - आईपीएस नरेंद्र ने इस बात की सूचना एसएसपी को दी। एसएसपी ने राजस्थान पुलिस को सूचना देकर नरेंद्र के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया था।
    - पुलिस फोर्स ने घर की घेराबंदी कर आनंदपाल के भाई विक्की और देवेंद्र को हथियारों के साथ गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में दोनों ने आनंदपाल के चुरू जिले के मालासर में छुपे होने की जानकारी दी थी।

    - इसके बाद नरेंद्र अपनी टीम के साथ राजस्थान के स्पेशल ऑपरेशनल ग्रुप के साथ मिले और आनंदपाल की घेराबंदी की।
    - पुलिस फोर्स से खुद को घिरा देख गैंगस्टर आनंदपाल ने लगभग 100 राउंड फायर किए, जिसमें दो पुलिसकर्मी घायल हुए थे।
    - पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए आनंदपाल को मार गिराया था।

  • किसान फैमिली से हैं ये आईपीएस ऑफिसर, इस वजह से फिर आए चर्चा में
    +5और स्लाइड देखें
    आईपीएस बिजारणिया ने मालवीय राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान जयपुर से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की
  • किसान फैमिली से हैं ये आईपीएस ऑफिसर, इस वजह से फिर आए चर्चा में
    +5और स्लाइड देखें
    नरेंद्र मूल रूप से राजस्थान के सीकर जिले के रहने वाले हैं।
  • किसान फैमिली से हैं ये आईपीएस ऑफिसर, इस वजह से फिर आए चर्चा में
    +5और स्लाइड देखें
    चार घंटे तक चली पूछताछ के बाद आईपीएस बिजारणिया अपनी टीम के साथ चूरू से रवाना हो गए।
  • किसान फैमिली से हैं ये आईपीएस ऑफिसर, इस वजह से फिर आए चर्चा में
    +5और स्लाइड देखें
    नरेंद्र ने अपने ट्रेनिंग के अंतिम दिन गैंगस्टर आनंदपाल का एनकाउंटर कराया था।
  • किसान फैमिली से हैं ये आईपीएस ऑफिसर, इस वजह से फिर आए चर्चा में
    +5और स्लाइड देखें
    बतौर ट्रेनी आईपीएस नरेंद्र को फरवरी 2017 में हरियाणा के सिरसा जिला में भेजा गया था।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Sikar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Cbi Questioned From IPS Who Involved In Anandpal Encounter
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sikar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×